मुस्लिम दंपति को नही थी कोई संतान, गंगा मैया ने भर दी गोंद, जानिए

Begusarai
Advertisement

हर धर्म एक ही ईश्वर-अल्लाह को मानता है, इंसान के लिए सबसे बाद धर्म इंसानियत होती है और हर धर्मो का सम्मान सबको करना चाहिए, ऐसा ही एक मिसाल बिहार के बेगूसराय जिले में देखने को मिला। बिहार के बेगूसराय जिले में एक मुस्लिम परिवार ने अपने एक बच्चे का मुंडन संस्कार किया है वो भी पूरे हिन्दू रीति रिवाज से, तभी से ये पूरा मामला जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है। इससे परिवार ने अपने दो बच्चों का गंगा घाट पर हिंदू रीति-रिवाजों से मुंडन संस्कार कराया। आपको बात दें कि ये मुस्लिम परिवार यूपी के धधरा की रहने वाले हैं।

इस बारे में पूछे जाने पर इस परिवार ने ऐसा करने का कारण भी लोगो के सामने बताया। उन्होंने बताया कि उनकी कोई संतान नहीं थी। मां-बाप का कहना है कि उन्होंने मां गंगा से संतान प्राप्ति के लिए मन्नत मांगी थी। आज मन्नत के पूरे होने के बाद ही वे गंगा मां को दिए वादे को पूरा करने सिमरिया घाट पहुंचे। परिवार के इस नेक पहल को देखते हुए इलाके के लोग भी बेहद खुश हैं। स्थानीय लोगों ने इसे धार्मिक सौहार्द का अच्छा उदाहरण बताया है। वही ये वाक्या पूरे जिले में लोगों के जुबान पर छा गया है।

अपने बच्चो का मुंडन करने बेगूसराय सिमरिया घाट पहुंचे पिता जागीर खान ने कहा कि ‘गंगा मइया के आशीर्वाद से दो बेटों का जन्म हुआ। रविवार को हम लोग मुंडन कराकर मन्नत उतारने आए थे।’ उन्होंने आगे कहा ‘हमें पूरा भरोसा है कि अगर सच्चे मन से गंगा मइया से कुछ भी मांगिए, तो वे पूरा करती हैं। जब गंगा मइया मजहब के नाम पर भेदभाव नहीं करतीं, तो फिर हम क्यों करें।’ जागीर खान ने आगे कहा कि ने उन्होंने पूरे परिवार के साथ सिमरिया के गंगा घाट पर अपने दोनों बेटों का पूरे हिन्दू रीति-रिवाज के साथ मुंडन संस्कार कराया।

ये भी पढ़े  रेल दुर्घटना में मारे गए लोगों के साथ, पुलिस ने की इस तरह की हरकत देखिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here