व्हाट्सएप्प ग्रुप में चल रही थी शहर में लूट की प्लानिंग, एडमिन सहित ग्रुप के कई मेंबर हुए गिरफ्तार

Advertisement

NEWS OF BIHAR : बिहार के बेतिया जिले में पुलिस ने लूट की घटना को अंजाम देने का प्लान बना रहे व्हाट्सएप्प ग्रुप के एडमिन सहित छः सदस्यों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अपराधियों ने ग्रुप का नाम महाकाल ग्रुप रखकर प्लान बना रहे थे। जानकारी के मुताबिक सभी अपराधी ऐतिहासिक रमना मैदान में जुटे थे और लूट की योजना बना रहे थे। पुलिस ने अपराधियों के पास से तीन देसी पिस्टल भी बरामद किया गया है। एसपी जयंतकांत को सूचना मिलते ही उन्होंने त्वरित एक टीम का गठन किया गया। टीम ने रमना मैदान में छापेमारी कर चनपटिया थाना क्षेत्र के चूहड़ी निवासी भोला यादव, महना निवासी विकास कुमार व कुंदन पांडे, बेतिया के उत्तरवारी पोखरा निवासी आयुष कुमार, बानुछापर के प्रभात कुमार सिंह तथा बथवरिया थाना क्षेत्र के पिपरा मठिया निवासी अविनाश सिंह को गिरफ्तार किया है। उनके पास से तीन पिस्तौल, चार कारतूस, चोरी की एक बाइक, एक बाइक की चेचिस तथा 4 बाइकों के ऑरिजनल कागजात जब्त किए गए हैं।

एसपी जयंतकांत ने बताया कि गुप्त सूचना पर पुलिस ने जिले के विभिन्न इलाकों में छापेमारी कर लूट की घटना का अंजाम देने वाले के एक बड़े रैकेट का पर्दाफाश किया है। इस दौरान छह बदमाश पुलिस के हत्थे चढ़ गए हैं। गिरफ्तार युवक शहर और जिले के विभिन्न क्षेत्रों में लूट की घटनाओं को अंजाम देते थे। सूचना मिली थी कि शहर के बड़ा रमना मैदान में पीपल के पेड़ के समीप कुछ अपराधी हथियार के साथ एकत्रित हुए हैं और आपराधिक साजिश रच रहे हैं। इसके बाद एक टीम का गठन कर कार्रवाई का आदेश दिया। वहां छापेमारी की गई। इस दौरान तीन अपराधी पुलिस के हत्थे चढ़ गए, जबकि तीन फरार होने में सफल रहे। गिरफ्तार युवकों की निशानदेही पर बानूछापर, उत्तर वारी पोखरा और चनपटिया थाना क्षेत्र के कई इलाकों में छापेमारी की गई। जहां से इस रैकेट में शामिल तीन अन्य युवकों को भी गिरफ्तार कर लिया गया। उनके पास से चोरी की बाइक, एक बाइक की चेचिस पिस्तौल और कारतूस जब्त किया गया है।