शिवहर: प्रखंड प्रमुख को शराब रखकर फंसाने का प्रयास करने वाले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Advertisement

मो. हसनैन की रिपोर्ट

पिपराढी प्रखंड प्रमुख सुनैना देवी के धनकौल स्थित बुनियाद गंज पुल के पास उनके पुश्तैनी घर के पीछे एक व्यक्ति के द्वारा फंसाने के नियत से 45 बोतल नेपाली देसी शराब रखकर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार को सूचना दिया गया। सुचना दिया गया कि प्रखंड प्रमुख के घर के पीछे शराब रखा हुआ है तथा वो शराब का कारोबार करती हैं।

पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पिपराढी थानाध्यक्ष राजेश कुमार चौधरी को निर्देश दिया कि उक्त मामले की तहकीकात करे। थानाध्यक्ष रात के 12: 56 मिनट से मामले की तहकीकात में जुट गए। परंतु निष्पक्ष जांच एवं निर्दोष को नहीं फसाने का आदेश पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार से प्राप्त होने के बाद थानाध्यक्ष पिपराढी राजेश कुमार चौधरी ने गुप्त सूचना देने वाले के मोबाइल नंबर से संपर्क कर तहकीकात शुरू किया।

पिपराढी थानाध्यक्ष राजेश कुमार चौधरी ने बताया है कि गुप्त सूचना देने वाले ऐसा तथ्य बता रहे थे जिससे लग रहा था कि यह उन्हीं की साजिश है। गुप्त सूचना वाले के मोबाइल से बात-चित के आधार पर रखे हुए जगह से शराब को बरामद कर लिया गया। थानाध्यक्ष चौधरी ने बताया कि सूचना देने वाले जिस तरह से बात कर रहे थे उससे लग रहा था कि वह आस-पास ही कहीं छुप कर पुलिस को जानकारी दे रहा है।

थानाध्यक्ष उससे मिलने की प्रयास किया तथा थोड़ा आगे बढ़ते गए। धनकौल पंचायत के वार्ड नंबर 10 के एक घर के आस-पास जाते ही उसने अपना मोबाइल स्विच ऑफ कर लिया, लेकिन घर के अंदर बात करते हुए पाए जाने पर पुलिस को संदेह होने पर घर खुलवाया तो सुचना देने वाला व्यक्ति पकड़ा गया। उससे सख्ती से पूछताछ किया गया तो उसने कहा कि हमने प्रमुख को फंसाने के नियत से शराब वहां छिपाई थी।

पुलिस को गुमराह करने तथा प्रखंड प्रमुख सुनैना देवी को शराब के जाल में फंसाने का प्रयास करने वाले धनकौल के वार्ड नंबर 10 निवासी स्वर्गीय रामचंद्र राय के पुत्र इंद्रजीत राय को गिरफ्तार कर लिया गया है तथा उसे जेल भेज दिया गया है। आसपास के इलाकों में पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार की जयकार हो रही है, चाय की दुकान तथा धनकौल बाजार पर वहां पर दुकानदारों ने बताया है कि पुलिस अधीक्षक ने दूध का दूध पानी का पानी कर दिया है।