RTI एक्टिविस्‍ट को उतारा मौत का घाट, आंगनबाड़ी में होने वाला था बड़ा खुलासा मुखिया सहित JDU नेता हिरासत में

accused
accused
Advertisement

जमुई :  जिस तरह आज कल बिहार में आरटीआइ एक्टिविस्ट की हत्या काफी चौंकाने वाली है. सूचना पाना मौत का कारण बन रहा है. हाल ही में मोतिहारी में एक आरटीआइ एक्टिविस्ट की हत्या कर दी गई उसके जमुई में एक  आरटीआइ एक्टिविस्‍ट सहित दो लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया. 

बता दें कि इस घटान के बाद सोमवार के सुबह जमुई में जनाक्रोश देखने को मिला. पुलिस ने  इस मामले की जांच में जुड़ गई है . इस हत्याकांड के सिलसिले में एक मुखिया को गिरफ्तार किया गया  है. पुलिस अभी तक तीन लोगो  को हिरासत में लिया है जिसमें जदयू के एक नेता भी शामिल है.

मौत की घाट उतार दी गई  RTI एक्टिविस्‍ट को 

जानकारी के अनुसार बता दें कि सिकन्दरा थाना अंजर्गत बिछवे गांव के पास अपराधी घात लगा कर बैठे थे. तभी बाइक पर सवार होकर वाल्‍मीकि यादव व कारू यादव रविवार की रात को सिकन्दरा बाजार से लौट रहे थे  उसी समय घात लगा कर बैठे अपराधियों में दोनो को घेर लिया और  सामने से गोली चला दी .

वाल्मीकि यादव की मौत घटनास्थल पर ही हो गई.  कारू यादव की मौत इलाज के लिए अस्पताल लेकर जा रहे थे उसी समय हो गई.

इस घटना के बाद स्थानिय लोग सड़क पर उतर गए और पूरा  सड़क जाम हो गया. घंटो वाहनों वहा लगी रही. एनएच 333 ए पर घंटों जाम रहा.

वाल्मीकि यादव के परिजन ने बताया कि  आंगनबाड़ी मे अनियमितता को उजागर करने में लगे थे . हो सकता है यह हत्या का कारण बना हो. पुलिस ने स्थानीय  मुखिया कृष्‍णा रविदास को गिरफ्तार की लिया है। साथ ही पुलिस प्रखंड जदयू अध्यक्ष सुरेश महतो तथा दो अन्‍य को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here