30 मार्च, 2017
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

कैसे यार बनेगा दूल्हा और कैसे फूल खिलेंगे दिल के? शादियों पर करेंसी क्राइसिस का कहर

lagan

newsofbihar.com डेस्क

पटना, 13 नवम्बर। मेरा यार बना है दूल्हा और फूल खिले हैं दिल के। जी हाँ एक बार फिर देवउठान एकादशी के बाद बैंड-बाजा-बारात का मौसम आ रहा है। शादियों के मुहूर्त की शुरुआत 16 नवम्बर को देवउठान एकादशी के बाद शुरू हो रहा है। चार महीने की ख़ामोशी और भदवा ख़त्म होने के बाद एक बार फिर से एक महीने के लिए शहनाई की गूंज से बिहार गुलजार होगा। बिहार के कोने-कोने से आ रही ख़बरों के मुताबिक़ नोटों की कमी अभी भी जस की तस है। संकट खत्म होने के आसार भी नहीं लोगों को दिख रहे। ऐसे में लोगों की खुशियों को ग्रहण लगना तय है।
सूर्य वृश्चिक राशि में जैसे ही प्रवेश करेंगे, उसी के साथ ही शादी ब्याह का लगन शुरू हो जायेगा। एकादशी अंग्रेजी की 11 तारीख को रही है, जो बहुत ही कम देखने को मिलती है। यह भी अद्भुत संयोग है। 11 से शुभ काम शुरू हो सकते हैं, लेकिन लगन 16 नवंबर से शुरू हो रहा है। एटीएम ख़राब पड़े हैं और करेंसी का क्राइसिस चल रहा है। 34 दिनों में 13 से ज्यादा तिथियों को है लग्न। 16 नवम्बर से शुरू हो रहे लगन की धूम इस बार 13 दिसम्बर तक रहेगा। 34 दिनों में ही इस बार 13 विवाह लग्न रहेंगे जिनमें काफी शादियां होंगी। 15 दिसंबर को रात 8 बजकर 31 मिनट पर सूर्य के धनु राशि में आने पर मलमास के साथ ही इन पर ब्रेक लग जाएगा। जुलाई महीने में देवशयनी एकादशी के बाद 14 जुलाई से 15 नवंबर तक सभी मांगलिक कार्य बंद हो गए थे जो देवउठान एकादशी के साथ ही शुरू हो जाएंगे।

शुभ लग्न

ये भी पढे़ं:-   शराबबंदी को लेकर सुशील मोदी का बड़ा बयान, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर लगाया गंभीर आरोप !

– नवंबर- 16, 21, 23, 24, 25 और 30
– दिसंबर- 1, 2, 3, 8, 9, 12 और 13

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME