18 अगस्त, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

Big Breaking: प्रधानमंत्री मोदी की माँ गुजरात के गांधीनगर स्थित बैंक पहुंची और लाइन में लगकर 4500 रुपए के नोट बदलवाए

modi-mother

newsofbihar.com डेस्क

पटना, 15 नवम्बर। बिग नोट बैन के बाद आम लोगों की परेशानी और संयम के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की माँ हीराबें मोदी खुद 500 और 1000 के नोट बदलवाने बैंक पहुँच गई। पीएम की मां मंगलवार को खुद चलकर गुजरात के गांधीनगर स्थित बैंक पहुंची और लाइन में लगकर 4500 रुपए के नोट बदलवाए। इस दौरान 97 साल की हीराबेन को सहारा देने के लिए कुछ महिलाएं थी। बैंक कर्मचारियों ने हीराबेन को अंगूठा लगवाने में मदद की।

एटीएम के बाहर लंबी कतारें

दरअसल, बैंकों और एटीएम के बाहर लंबी कतारों को देखते हुए सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों तक नकदी की पहुंच सुनिश्चित करने के लिए बैंकों से नकदी निकालने की सीमा बढ़ाते हुए बैंकों में एक से अधिक बार आने और डाकघरों की शाखाओं के जरिए पैसा वितरित करने की सीमा बढ़ा दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में रविवार रात हुई उच्चस्तरीय बैठक के बाद आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने कहा कि एटीएम से बड़े नोट भी निकाले जा सकेंगे. इन्हें आगामी कुछ दिनों में बढ़ाया जाएगा।

एटीएम से पैसा निकालने की सीमा बढ़ी

एटीएम से रोजाना पैसा निकालने की सीमा अब 2,000 रुपए से बढ़कर 2,500 रुपए हो गई है। बैंक के काउंटरों से अब 4,000 के पुराने नोट के बजाए 4,500 रुपए तक के नोट बदले जा सकेंगे। देश में 200,000 से अधिक एटीएम है।
दास ने कहा कि देश में 1,20,000 बैंकिंग कारेस्पोंडेंट (वे लोग जो बैंकों की तरफ से छोटी धनराशि जमा कराने के लिए अधिकृत होते हैं) हैं और देश में 130,000 से अधिक डाकघरों की शाखाएं हैं।
इन कुल 250,000 में से अधिकतर ग्रामीण क्षेत्रों में हैं और यह अधिक संख्या में नकदी देने में सक्षम होंगे. बैंक खातों से एक सप्ताह में पैसा निकालने की ऊपरी सीमा 20,000 रुपए से बढ़ाकर 24,000 रुपए कर दी गई है।

ये भी पढे़ं:-   पत्नी की विदाई नहीं होने से आहत पति ने किशोर का कर दिया हत्या...

वरिष्ठ नागरिकों और विकलांगों के लिए अलग कतार

अन्य उपायों में वरिष्ठ नागरिकों और विकलांगों के लिए और पुराने अमान्य हो चुके नोटों को बदलवाने वाले लोगों के लिए अलग कतार की व्यवस्था की गई है। पेट्रोल पंप, दवा की दुकानों और दैनिक उपभोग की जरूरी वस्तुओं की दुकानों पर पुराने नोटों को स्वीकार करने की समय सीमा 24 नवंबर तक बढ़ा दिया गया है। सरकार ने चालू खातों से हर सप्ताह नकद निकासी की सीमा बढ़ाकर 50,000 रुपए कर दी है। आरबीआई ने भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम से ऑनलाइन लेनदेन पर लगने वाला अधिभार हटाने हटाने का निर्देश दिया है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME