08, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

कैसे होगा बाबु जी का श्राद्ध-कर्म और भोज-भात; पैसा जो निकाल कर लाये थे बैंक से वो कागज़ हो गया

1347

newsofbihar.com डेस्क। “इनका क्या है? एक उठता है तो कहता है कि शराब बंद। दूसरा उठा आ रात-राती 500 और 1000 का नोट बंद करवा दिया। माने कि प्रधानमंत्री हैं तो फैसला जो लिए हैं सो ठीके होगा। लेकिन अब पिता जी को मोक्ष कैसे मिलेगा? परसों नौह-केस है आ फिर भोज आ दान-पुण्य। श्राद्ध-कर्म के लिए बैंक से 3 लाखो रुपया लाये थे। सब कागज़ हो गया।” यह व्यथा है एक गाँव में रहने वाले एक व्यक्ति की जिसके पिता का देहांत विगत दिनों हो गया। दरभंगा के गाँव में रहने वाले एक व्यक्ति ने अपने दोस्त को फोन कर यह बातें कहीं।
व्यक्ति के अनुसार श्राद्ध-कर्म तो अब नहीं ही हो पायेगा। धार्मिक आदमी हैं सो उनको लगता है कि बिना दान-पुण्य और भोज-भात के उनके पिता कि आत्मा को शांति नहीं मिलेगी। हर चौक-चौराहे पर इसी की चर्चा हो रही है। आने वाले समय में इसका क्या प्रभाव होगा वह देखने वाली बात होगी लेकिन सोशल साइट पर इस बैन को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं।

आइये देखें सोशल साइट पर क्या कह रहे हैं लोग

जैसे ही मंगलवार की रात 8 बजे प्रधानमंत्री ने कहा की आज रात्रि 12 बजे के बाद 500 और 1000 के नोट कागज़ से ज्यादा कुछ नहीं रहेंगे, सोशल साइट पर मैसेज का दौर शुरू हो गया “असली दीवाली आज हुई है, अब लक्ष्मी जी बाहर निकल कर आएंगी’। “मोदी जी यह चीटिंग है, कालाधन बाहर से लाने को कहा था, आप अंदर का निकाल रहे है’। “अब पत्नियों का भी कालाधान आएगा सामने’। “अमेरिका काउंटिंग वोट, इंडिया काउंटिंग नोट’। फेसबुक व ह्वाटसप ग्रुप में इस तरह के मैसेज का देर रात तक आदान-प्रदान होता रहा।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME