27 जून, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

शिवहर को सूखाग्रस्त इलाके में घोषित करने की मांग ! जानिए कौन कौन से जिलें हैं शामिल !

Flooding-and-sukhar

मो.हसनैन की रिपोर्ट

शिवहर, 5 सितम्बर। राज्य सरकार ने 34 लाख हेक्यटर में धान के उत्पादन का ल़क्ष्य साध जो रिकॉड बनाने का सपना बुन रखा था। वह अब टूटता हुआ नजर आ रहा है। बारिस की स्थिती में परिवर्तन न होने के कारण धान की फसलें ख़राब होती नज़र आ रही है। कुछ इलाकों में ना तो सही से बारिस हुई और न ही बाढ़ का कोई आसार दिखा। ऐसे में फसल उत्पादन संभव नहीं है।

बताते चलें कि स्थानीय डीएम राजकुमार ने शिवहर जिला को सुखाग्रस्त धोषित करने के लिये प्रधान सचिव को पत्र भेजकर अनुरोध किया है। कृषि वैझानिक डॉ. साजिद हसनैन ने बताया कि धान के खेतों मे दरार नहीं फटनी चाहिये। इससे खेतों की उपजाऊ क्षमता कम हो जाती है। वहीं पूसा के वैझानिक डॉ. विनोद कुमार ने बताया कि धान की अच्छी पैदावार के लिये खेतों में लगभग 1200 मिलीमिटर यानी 120 सेंटीमिटर पानी चाहिये।

सूखेग्रस्त इलाकों में शामिल जिले:

पटना, भोजपुर, बक्सर, कैमूर, नालंदा, गया, जहानाबाद, औरंगाबाद, नवादा, मुंगेर, शेखपुरा, लखीसराय, जमुई, बेगूसराय, खगड़िया, पूर्णिया, कटिहार, मधेपुरा, सहरसा, सुपौल, भागलपुर, सारण, सीवान, गोपालगंज, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, वैशाली, शिवहर, पूर्वी और पश्चिमी चंपारण, मधुबनी, दरभंगा और समस्तीपुर।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

ये भी पढे़ं:-   राहत शिविर में बाढ़ पीड़ितों का बीच जायजा लेने पंहुचे सांसद

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME