26 अप्रैल, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

अगरबत्ती से एक दिन में दो करोड़ का बिजनस… चौंक गये ना ! तो पढ़िए ये खबर

Agarbatti-udayog

गया,10 अगस्त। बिहार के गया जिले में 60 साल से अगरबत्ती निर्माण हो रहा है। हालांकि इस क्षेत्र में वियतनाम के आ जाने से इस अगरबत्ती व्यवसाय पर काफी असर पड़ा है। इसके बावजूद भी स्थानीय निर्माता लगे हुए है। वियतनाम के इस इंडस्ट्री में आने से हालांकि बिजनेस पर असर पड़ा है। पर इसके बावजूद स्थानीय निर्माता रोजाना ढ़ाई करोड़ तक का व्यवसाय कर रहे हैं। लेकिन फिर भी गया में रोज अगरबत्ती इंडस्ट्री दो करोड़ का बिजनेस करती है। गया में बनने वाली अगरबत्ती की एक अलग ही पहचान है। गया की बनी हुई अगरबत्ती पूरे देश में सप्लाई की जाती है। जिले के शहरी क्षेत्र के पंचायती अखाड़ा, गेवाल बिगहा, वारिस नगर,इकबाल नगर, नादरागंज, कटारी, माड़नपुर, घुघरीटांड,बक्सू बिगहा के अलावा रफीगंज,चेरकी, शेरघाटी,गुरूआ, डोभी, चाकंद, बेलागंज,मानपुर,बोधगया में इसका निर्माण होता है। यहां इंडिया टोबैको कारपोरेशन आइटीसी के मंगलदीप गया की कंपनी हिन्दुस्तान फ्रेगरेंस और मैसूर की कंपनी साइकिल ब्रांउ की अगरबत्ती का निर्माण बतौर अनुबंध कई वर्षों से होता आ रहा है। वहीं अगरबत्ती व्यवसायी जमीर शहीदी कहते हैं कि सरकार इस बिजनेस को बढ़ावा देने के लिए को कोई कदम नहीं उठा रही है। वियतनाम से आने वाली अगरबत्ती से अच्छी अगरबत्ती यहां के कारीगर तैयार कर सकते हैं। एक अन्य बिजनेसमैन का कहना है कि सरकार इस इंडस्ट्री को प्रोत्साहन दे तो ये एशिया में सबसे ऊपर होगा। वियतनाम से आने वाली अगरबत्ती से अच्छी अगरबत्ती यहां के कारीगर तैयार कर सकते हैं।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

ये भी पढे़ं:-   बैंक से लूटे गये आठ लाख रुपये के साथ चार गिरफ्तार

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

ऐक विचार साझा हुआ “अगरबत्ती से एक दिन में दो करोड़ का बिजनस… चौंक गये ना ! तो पढ़िए ये खबर” पर

  1. shiv lal vaishnav February 18, 2017

    ageribati macking and suppalry markting rawmaterial karna chaha ta hu bujness gujrat aerya ma

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME