25 अप्रैल, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

73 शहरों की रेटिंग के लिए विडियो काॅन्फ्रेसिंग के जरिये हुआ मिनिस्ट्री की बैठक

Darbhanga

मो. शमशाद की रिपोर्ट
दरभंगा, 07 अगस्त। स्वच्छता सर्वेक्षण- 2016 के लिए कार्यशाला का आयोजन शहरी विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा विडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से किया गया। इससे पूर्व शहरी स्वच्छता में सुधार लाने और नगरों को प्रोत्साहित करने के लिए प्रस्तावना के रूप में जनवरी 2016 में 73 शहरों की रेटिंग के लिए शहरी विकास मंत्रालय ने स्वच्छता सर्वेक्षण-2016 का आयोजन किया था। इसी सिलसिले में रैकिंग कार्य की कवरेज को बढ़ाने के उद्वेश्य से और शहरों एवं कसबों को प्रोत्साहित करने के लिए समय और अभिनव ढ़ंग से मिशन की पहलों को सक्रिय रूप से कार्यान्वित करने हेतु शहरी विकास मंत्रालय अब स्वच्छ भारत मिशन शहरी के अन्तर्गत 500 शहरों की रैकिंग के लिए दूसरा सर्वेक्षण आयोजित करने जा रहा है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

जिसमें सर्वेक्षण का उद्वेश्य कसबों एवं शहरों को रहने का बेहतर स्थान बनाना, बहु संख्या में भागीदारी को बढ़ावा देना और समाज के सभी वर्गों में जागरूकता पैदा करना है। इसके अतिरिक्त सर्वेक्षण से शहरों को स्वच्छ बनाना, नागरिकों की सेवा प्रदान करने में सुधार लाना एवं शहरों और कसबों में एक स्वस्थ्य प्रतिस्पर्धा को जागृत करना है। इस अवसर पर माननीय केन्द्रीय मंत्री शहरी विकास मंत्रालय एम वेंकैया नायडू ने सिटिजन काॅल सेन्टर नम्बर-1969, स्वच्छ एप्स, आइडिया बुक, गाईड बुक, सैनिटेशन कैम्पेन, क्रियेटिवस् लान्च किया। साथ ही इस प्रतियोगिता में खुले मन से भाग लेने की अपील की। इसके अलावा नायडू ने इसे राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी का स्वप्न करार देते हुए बताया कि स्वच्छ भारत उनके लिए सबसे ज्यादा महत्त्वपूर्ण था। इस कार्यशाला में देश के चुने हुए 500 जिलों के जिला पदाधिकारी, मेयर, उप मेयर, नगर आयुक्त, वार्ड सदस्यगणों एवं अन्य पदाधिकारीगणों ने भाग लिया। वहीं दरभंगा जिला से जिला पदाधिकारी डाॅ0 चन्द्रशेखर सिंह, मेयर, दरभंगा गौड़ी पासवान, नगर आयुक्त, दरभंगा नागेन्द्र कुमार सिंह, जिला सूचना एवं विज्ञान पदाधिकारी, दरभंगा मो0 अहमद हुसैन अंसारी, जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी, दरभंगा कन्हैया कुमार व अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

ये भी पढे़ं:-   बिहार मे आज भी नाव के सहारे स्कुल जाते है बच्चे !

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME