06, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

ऐसे भाईयों को सलाम… दिव्यांग भाई की सेवा कर समाज को दिखा रहे है आईना !

Sivhar-racha-kirtiman

मो0 हसनैन की रिपोर्ट
शिवहर, 26 अगस्त : कहा गया है कि इस धरती पर मानव सेवा ही सबसे बडा धर्म है। कुछ ऐसे ही इस वाकया को चरितार्थ कर रहे है शिवहर के सरसौला खुर्द पंचायत के कोठिया गॉंव मे प्रसिद्द किसान रहे स्व. पांचू साह के सभी बेटे। पंचू साह के चार पुत्रों में तीन पुत्र : नागेन्द्र साह, विपिन साह और अवधेश साह तो स्वस्थ्य है, लेकिन सबसे छोटा पुत्र श्याम साह जन्म से ही दिव्यांग है। पंचू साह जो की कभी अपने गाँव के प्रसिद्द किसान हुआ करते थे वह 1990 के दशक मे 20 बीघा (एकड) जमीन का जोत करते थे। साथ ही उतना ही हुंडा बटईया भी करते थे। पांचू साह चार पुत्रों में सबसे छोटा श्याम उसी समय से मानसिक रूप से दिव्यांग था। पिता के निगरानी मे ठीक रहा लेकिन पिता की मृत्यु वर्ष 2008 मे होने के उपरान्त उस पर आफत आ गई।

लेकिन पिता की मौत के बाद श्याम साह के तीनों भाई के लिए श्याम भगवान की तरह हो गया। सभी भाई श्याम की सेवा में दिन-रात लगे रहते है। श्याम के बड़े भाई ने श्याम को बोझ नहीं बल्कि अपनी जिम्मेवारी मानते है। श्याम शरीर से इतना लाचार है की न तो स्वयं नित्यकर्म कर पाता है और नाही स्वयं खाना खा पाता है यहां तक की वह अपना पैंट भी भाइयों से ही पहनता है। इन चारों भाइयों में प्यार ऐसा है की सभी भाई उसके दिन रात के सभी नित्य-कर्म कराते हुए अपने हाथो से भोजन कराने के उपरान्त ही भोजन करते है।

भाइयो ने समुचित इलाज के लिय चिकित्सको से बात की लेकिन बिजली शॉट देने के विचार पर भाईयों ने मना कर दिया। तीनों भाईयो ने अपने दिव्यांग भाई श्याम को मानव रूपी जीवन जिलाने के लिय प्रण किया तब से अब तक दो दो साल अपने पास रखकर सेवा करने की ठानी आलम ऐसा है कि दिन भर पैर मे रस्सी बांध कर दरवाजे पर रखा जाता है। रात मे खाना खिलाकर एक कमरे मे सुला दिया जाता है कुछ दिन पूर्व वह नंगे पुरे बाजार, गॉव मे चला जाता था। ग्रामीणो ने बताया कि भाई सेवा उनके यहां देखी जा सकती है जो एक मिशाल बनकर समाज मे दिख रही है परन्तु एसे दिव्यांग पर आज तक सरकार की न तो नज़र गई है और ना ही कोई भी सुविधा नही मिल पाया है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME