23 मार्च, 2017
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

अनजाने में हुई लड़ाई…वह फिल्म डायरेक्टर निकला…उसने बना दी मेरी लाइफ

jkl

newsofbihar.com डेस्क

पटना, 10 जनवरी।

छोटे कद के अभिनेता केके गोस्वामी ने अपने जीवन से जुड़े कुछ रोचक किस्से सुनाए जिसे सुनकर लगता है कि कद सफलता और असफलता, प्यार के लिए कोई मायने नहीं रखता। गोस्वामी ने बताया कि बचपन में इन्हें खरीदने के लिए सर्कस वाला आया था। गोस्वामी ने बताया कि मेरा और मेरे छोटे भाई का कद छोटा है। जब इस बात का पता एक सर्कस वाले को चला तो वह मेरे पिता से मिला। उसने पिता से कहा कि बड़े बेटे को मुझे दे दिजिए। आपको 50 हजार रुपए देंगे। इसको सर्कस का काम सिखाएंगे। आप इससे मिल भी सकते हैं।

सर्कस वाले की बात सुनकर मैं डर गया था। पिता जी ने मुझे बेचने से इनकार कर दिया तब राहत मिली। मैं उस समय 10-12 साल का था। छोटे कद के गोस्वामी ने अपनी एक्टिंग से अपनी एक अलग पहचान बनाई। जवान हुए तो शादी तय हुए, लेकिन ऐन वक्त पर ससुराल वाले बेटी देने से इंकार करने लगे।
ये भी पढ़ें-‘जिय हो बिहार के लाला’, मोतिहारी का लाल मचाएगा हॉलीवुड फिल्मों में धमाल
लड़की ने जब सिर्फ और सिर्फ इनसे ही शादी करने की जिद की तब वे दुल्हा बनकर ससुराल गए, लेकिन दिल में डर था। कहीं लड़की मुझे देखकर शादी से इंकार न कर दें। क्योंकि जब मैं बरात लेकर लड़की के घर जाऐगें तभी तो मेरे साथ बरात में गांव के लोग होंगे, बैंड बाजे बजेंगे कहीं अगर उस समय लड़की मुझे देखकर मना कर देगी तो पुरे समाज में कहीं मुहं दिखाने के लाइक नहीं रहुगा। इसलिए डर के मारे मंदिर में की करवाया गया शादी।

ये भी पढे़ं:-   लालू ने बेटे के बंगले में उगाई आलू की फसल, अपने आवास पर बैंगन की खेती !

आपको बता दें कि केके गोस्वामी का कद तीन फीट है और पत्नी की पांच फीट लेकिन उन्होंने बताया कि कद का यह अंतर हमारे प्यार को कम नहीं करता है। अपनी नटखट अदाओं से लोगों को हंसाने वाले कॉमेडी स्टार केके गोस्वामी का जीवन कई रोचक कहानियों से भरा है। साथ ही गोस्वामी ने बताया कि मेरे साथ साथ मेरी मां को भी लोग ताना मारते थे। उन्होंने कहा कि छोटे कद के चलते उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। मेरा घर बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के पानापुर में है। पिताजी का स्टूडियो था जिसे मैं ही चलाता था। एक दिन मैं स्टूडियों को बंद करके घर जा रहा था। तभी रास्ते में कुछ दोस्त मिल गया। इसके बाद हम सभी दोस्त एक मिठाई के ठेले के पास जाकर मिठाई खा रहे थे। उसी बीच एक अनजान आदमी से मेरा झगड़ा हो गया। इसी झगड़ा के बीच उस आदमी ने बताया कि तुम मुझे पहचानते नहीं हो मैं फिल्म डायरेक्टर हूं। यह सुन हमलोगों ने उन्हें रबड़ी खिलाई तो उसने एक कार्ड दिया।
ये पढ़ें भी-प्रकाश झा जो ना कर पाए वो भंसाली करेंगे….पद्मावती फिल्म की शूटिंग होगी वैशाली में !
साथ ही उसने बताया कि मैं एक दिन उनसे मिलने मुंबई पहुंचा और इस तरह मुझे फिल्मों में काम करने का मौका मिला था। इसके बाद वहीं से फिल्म में काम करने का सफर शुरू हो गया था। इस तरह मुझे पहली बार भोजपुरी फिल्म रखिह अंचरवा के लाज मिली और मैंने अभिनय की शुरूआत हुई। लोगों को मेरी एक्टिंग पसंद आई और कई फिल्मों के ऑफर मिले। मुझे कई टीवी सीरियल्स में भी काम करने का मौका मिला। उस समय छोटे कद वाले लोगों के लिए इंडस्ट्री में कोई रोल नहीं लिखा जाता था। लेकिन किस्मत दिखिये मैंने अभी तक पचास से भी ज्यादा फिल्मों में काम कर चुका हुं और मुझे कई बड़े एक्टर्स और एक्ट्रेसेज के साथ काम करने का मौका मिला।

ये भी पढे़ं:-   इंटर-मैट्रिक परीक्षा 2017 के लिए बोर्ड ने जारी किया बड़ा अल्टीमेटम !

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME