08, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

शव से लिपट कर रो रहे थे पिता, घूमते फिरते बेटा भी पंहुचा थाना… जानिए क्या है अजीबोगरीब मामला !

Thana

demo photo

पंकज कुमार सिंह की रिपोर्ट
अरवल, 06 अगस्त। पिता ने की शव की शिनाख्त, बहू ने कहा ये मेरा पति नहीं। जी हाँ, कुछ ऐसा ही दृश्य करपी थाना क्षेत्र के शहरतेलपा ओपी मुख्यालय में शुक्रवार की सुबह देखने को मिला। जहाँ एक तरफ पिता ने अपने पुत्र के शव के शिनाक्ख्त की पुष्टि की, वही दूसरी और रोटी-बिलखती बहु ने उस शव को अपने पति का शव मानने से इंकार कर दिया।
बताया जा रहा है कि पुलिस ने बोरे में बंद एक युवक के शव की बरामद की है, तथा जानकारी के अनुसार युवक की हत्या तेज हथियार से गला रेतकर की गई है। इसके अलावे चेहरे पर भी जख्म के कई निशान पाए गए हैं जिसके कारण मृत व्यक्ति की पहचान करने में काफी परेशानी हुई। बहुत जांच-पड़ताल के बाद शव की बरामदगी कर ली गई है।

आपको बता दें कि मृत युवक की पहचान गया जिले के अलीपुर थाना क्षेत्र के रामनारायण राय के रूप में की गई है। मिली जानकारी के अनुसार रामनारायण अपने पिता और गांव के लोगों के साथ बघोई व केयाल गांव में भोज खाने आए थे। वहीं भोज खाने के बाद वह अकेले वापस लौट आए थे। लेकिन शुक्रवार को सवेरे अचानक उसके पिता को शहरतेलपा
स्थित सब्जी मंडी के पास उनके बेटे के शव पाए जाने की जानकारी मिली तो वह दंग रह गए। उन्हें अपने कानों पर विश्वास नहीं हुआ और वह भागते हुए घटनास्थल पर जा पहुंचे। अपने बेटे के शव को देख उन्हें काफी झटका लगा लेकिन किसी तरह मोबाइल फोन के जरिए इसकी जानकारी उन्होंने अपनी बहू को दी। वहीं दूसरी तरफ मामले में नया मोड़ तब आया जब रामनारायण की पत्नी ने घटनास्थल पहुंचकर मृत व्यक्ति को अपना पति मानने से इंकार कर दिया। सिर्फ इतना ही नहीं, उसने अपने पति को फोन किया और उनसे बात भी की। जिसके बाद पता चला कि रामनारायण देवकुंड में था और पत्नी से बात-चीत के बीच ही वह घटनास्थल पर उपस्थित हो गया। वहीं पुलिस के अनुसार पोस्टमार्टम कराए जाने के उपरांत शव को पहचान के लिए 72 घंटे तक रखा जाएगा। साथ ही पुलिस प्रशासन इस मामले की छानबीन में लगातार जुटी हुई है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME