03, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

बहिष्कार चायनीज सामानों का, नुकसान फुटकर दुकानदारों का !

facebook-whatsapp

मो. हसनैन की राय
पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर लगातार यह मेसेज वायरल हो रहा है कि चीनी सामान का बहिष्कार किया जाय लेकिन सवाल यह है की नुकसान किसका होगा… चीन का या भारतीय फुटकर दुकानदारों का ?
लेकिन सोचने वाली बात यह है कि हम चीन का बहिष्कार कर रहे है या खुदरा दुकानदारों का जिनका जीविकोपार्जन कहीं ना कहीं चायना से आने वाली सस्ती इलेक्ट्रॉनिक्स आयटम है। जब अधिकतर छोटे व्यापारी थोक बाजारो से समान खरीद कर अपने दुकानो को भर लिया होगा और चीन अपना समान बेचकर और मुनाफा कमाकर चला जाएगा तो फिर चीनी समान का बहिष्कार करना। अपने छोटे व्यापारियों और दुकानदारों को नुकसान पहुचाने से ज्यादा कुछ नहीं है। भारत में चीनी समान का सबसे ज्यादा हिस्सेदार छोटे छोटे दुकानदार है। एक बात यह भी है कि बाजारो मे उपलब्ध चीनी समानों के अलावा कोई सस्ता विकल्प आर है ही नही। जब तक चीनी समानों का सस्ता और अच्छा विकल्प बाजारों मे उपलब्ध नहीं होता। तब तक बहिष्कार की बाते करणा बेतूका लगता है। मुझे भी लगता है कि चीनी समान का विरोध होना चाहिए। लेकिन इसकी शुरूआत सरकार को करना चाहिए। जिस तरह केजरीवाल सरकार ने चीनी पटाखों पर दिल्ली मे पाबन्दी लगा दी है। उसी प्रकार अन्य सरकारो को चीनी समानों पर पाबन्दी लगा देनी चाहिए। यदि सरकारी अस्तर पर पाबन्दी नही लगाई गई। तो हम लोग चाइनीज समान से संबंधित इस तरह के मेसेज काॅपी करते रह जायेगा और चाइना करोड़ो का मुनाफा कमाकर चला जाएगा।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME