21 अगस्त, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

‘भीख’ मांग मासूम बेटे ने चुकाया मां का कर्ज!

loan

देमो चित्र

गोपाल कुमार की रिपोर्ट

बेगूसराय, 14 अगस्त। दस साल पहले महिला ने बैंक से रोजगार के लिए कर्ज लिया। कर्ज लेने के दो साल बाद उसने बेटे को जन्म दिया। चार साल बाद वह दुनिया छोड़कर चली गई। पत्नी के असमय निधन पर बच्चे के पिता का दिमागी संतुलन बिगड़ गया और वह कहीं चला गया। रिश्तेदारी में पल रहे आठ साल के बच्चे को कोर्ट से मां के लोन को ब्याज समेत भुगतान करने की नोटिस मिली। कर्ज चुकाने को उसने गांव वालों से पांच हजार रुपए जुटाए और शनिवार को कोर्ट पहुंच गया। उसके प्रयास को देख लोक अदालत में मौजूद लोगों का कलेजा पसीज गया। कोर्ट ने कर्ज माफ कर दिया।

जानकारी अनुसार सिंघौल सहायक थाना के सिंघौल गांव निवासी सुनील मोची की पत्नी अनीता देवी ने दस वर्ष पूर्व स्टेट बैंक से बतौर कर्ज 21 हजार रुपये लोन लिया था। पति के असहयोग के कारण उसने कर्ज से कारोबार की शुरुआत की। 2012 में एक दुर्घटना में उसकी मौत हो गई। घटना के बाद उसके पति सुनील का दिमागी संतुलन बिगड़ गया और वह घर छोड़कर कहीं चला गया। अनीता के बच्चे की परवरिश की जिम्मेदारी रिश्तेदारों पर आ गई। इस बीच अनीता के लोन पर ब्याज बढ़ता गया। बैंक से अनिता देवी के नाम से लोन जमा करने को नोटिस भेजी गई। नोटिस अनीता के आठ वर्षीय सुधीर कुमार को थमा दी गई। लोन क्या होता है, उसे इसकी जानकारी नहीं थी। उसने नोटिस को गांव वालों को दिखाया। गांव वालों ने उसे आर्थिक मदद की और पांच हजार रुपए इकट्ठा हो गए। शनिवार को सुधीर लोक अदालत में पहुंचा और लोन के एवज में पांच रुपए जमा कर दिए।

ये भी पढे़ं:-   पूर्णियां: RJD की पंचायत स्तरीय कार्यकर्ताओं की बैठक में BJP के खिलाफ क्या बोल गये अध्यक्ष जी

जिला जज सह लोक अदालत के अध्यक्ष गंगोत्री राम त्रिपाठी व अदालत में मौजूद लोग बच्चे के प्रयास को देख हतप्रभ रह गए। आनन-फानन जिला जज के निर्देश पर एसबीआइ ग्रामीण के मुख्य प्रबंधक गोपाल शरण सिन्हा, क्षेत्र पदाधिकारी राजू कुमार सिंह, जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव सह अपर जिला जज सुमन कुमार सिंह को बुलाया गया। सभी ने त्वरित कार्रवाई करते हुए 21 हजार के लोन और सूद को माफ करते हुए मात्र पांच हजार रुपये में मामले को निष्पादित कर दिया। सुधीर को बैंक अधिकारियों ने लोन समाप्ति की रसीद भी दे दी।

इस दौरान बैंक अधिकारियों और न्यायिक कर्मियों ने बच्चे की जमकर सराहना की और उसे भविष्य में किसी प्रकार की समस्या होने पर सहयोग का आश्वासन भी दिया।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

#advt.

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME