23 जून, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

ऐसी लापरवाही दोबारा नहीं करना वरना ‘द बर्निंग ट्रेन’ बनने में देर नहीं लगेगी !

2_1477520891

newsofbihar.com डेस्क, भागलपुर, 27 अक्टूबर। बुधवार की सुबह पौने ग्यारह बजे खड़ी विक्रमशिला एक्सप्रेस की पेंट्रीकार में आग लग गई। आग लगने के कारण तीन लोग गंभीर रूप से झुलस गए। जानकारी के अनुसार बताया जा रहा था कि भागलपुर लौटने के क्रम में ही सिलेंडर खत्म हो गया था। सुबह जब यार्ड से विक्रमशिला एक्सप्रेस प्लेटफार्म संख्या एक पर खड़ी हुई थी उसी समय दुसरा सिलेंडर लगाया गया। पेंट्रीकार मैनेजर सद्दाम ने बताया कि हादसा गैस लीक की वजह से हुई।

हेड कुक शंकर गैस चूल्हा ऑन कर माचिस खोजने लगे। करीब दो मिनट के बाद माचिस मिला और जैसे ही माचिस की तीली जलायी गई। किचन में फैले गैस से आग भभक गई और हेड कुक झुलस गया। शंकर के दोनों हाथ, दोनों पैर के अलावा गर्दन की बायीं ओर का पूरा हिस्सा झुलस गया। उसे बचाने में हेल्पर देव कुमार के दोनों हाथ व पैर झुलस गए। करीब दो मिनट की इस अफरातफरी में पेंट्रीकार कर्मी दिनेश ने सिलेंडर का नॉब बंद किया। आग बुझने के बाद जख्मी शंकर, देव कुमार व दिनेश को रेल अस्पताल ले जाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद शंकर व देव को गंभीरावस्था में मायागंज भेजा गया। पेंट्रीकार के सामने आरपीएफ पोस्ट से कई कर्मी भी पेंट्रीकार की ओर दौड़े और फायर एक्सटिंग्युशर से आग पर काबू पाया। घटना के बाद पेंट्रीकार को ट्रेन से अलग कर यार्ड ले जाया गया। दोपहर करीब 12 बजे बिना पेंट्रीकार के ही एक घंटा की देरी से ट्रेन रवाना हुई।

ये भी पढे़ं:-   सुरेश प्रभु का रेल यात्रियों को उपहार, अब आरएसी की टिकट पर सफ़र करने वालों को भी मिलेगा बेडरोल

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME