24 जून, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

केरल में जो शिक्षा व्यवस्था है वैसा बिहार में कीजिये, गुस्साए मंत्री ने कहा… आप बैठेंगे या मैं बैठ जाऊं !

abdul

सौ : इनाडु

पटना, 15 अक्टूबर : बिहार के वैशाली जिले के 44वें स्थापना दिवस के मौके पर बिहार के वित्त मंत्री व राजद के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी को एक सभा में मौजूद युवक ने अपने सवाल से कुछ देर के लिए बोलती बंद कर दी।
दरअसल, हाजीपुर के अक्षयबट राय स्टेडियम में उस समय असमंजस की स्थिति उत्पन्न हो गई, जब मंत्री वैशाली जिले के 44वें स्थापना दिवस कार्यक्रम के समापन समारोह में अवाम को संबोधित कर रहे थे। उसी समय एक युवक ने ऐसा सवाल दागा कि मंत्री जी की बोलती बंद हो गई।

हाजीपुर के प्रसिद्ध केला के बारे में जिक्र करते हुए मंत्री ने कहा कि केरल में केला का उत्पादन होता है और उससे तमाम तरह के भोज्य पदार्थ चिप्स आदि बनाए जाते हैं। जिसकी डिमांड गल्फ देशों में काफी अधिक है। हाजीपुर के केला किसान अगर इस व्यापार से जुड़ना चाहें, तो बिहार सरकार उनकी हर तरह से मदद करेगी और जब हमारे यहां केले के कई सामान बनने लगेंगे तो हमारा मुकाबला भी केरल से होगा और हमारे किसानों को ज्यादा फायदा होगा।

मंत्री की इतनी बात सुनते ही भीड़ में बैठा एक युवक उठकर खड़ा हो गया और मंत्री को बीच में रोकते हुए गुस्से में कहने लगा कि केले से पहले केरल की शिक्षा से तुलना कीजिए, बिहार में जो शिक्षा व्यवस्था है, वो केरल में कभी नहीं रहा, चिप्स के पहले पढ़ाई लिखाई की बात करें, तो बेहतर होगा। लगातार बोलते युवक को शांत कराने के लिए राजद के वरिष्ठ व तजुर्बेकार मंत्री ने पहले तो उस युवक को बैठने को कहा, लेकिन जब वह नहीं माना तो मंत्री ने उसे मीडिया में हाई लाइट होने के लिए यह सब करने का आरोप लगाया, तब भी जब वह युवक शांत नहीं हुआ, तब मंत्री ने उस युवक से कहा कि या तो आप शांत हो जाओ या फिर मैं ही बैठ जाता हूं।

ये भी पढे़ं:-   पहले गैर ने फिर अपनों ने किया मेरा रेप !

हालांकि वह युवक जब तक बोलता रहा, भीड़ में बैठे लोग मंत्री की हूटिंग करते रहे। जिससे उस युवक का जोश और बढ़ गया था। इस घटना के बाद मंत्री ने बड़े ही सफाई से इस गंभीर विषय को टालते हुए उसे व्यवहारिक बातों के जाल में बांधकर आनन फानन में अपनी बात समाप्त कर दी।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME