मोदी सरकार देगी लाखों नौकरियां, रेलवे में आई है बंपर वेकैंसी

Advertisement

सेन्ट्रल डेस्क,साहुल पाण्डेय : भारतीय रेलवे में एक बार फिर से बंपर बहाली आई है। रेलवे की ओर से करीब 1 लाख 30 हजार रिक्त पदों के लिए आवेदन मांगें गए है। बता दें कि हाल हीं में रेलवे की ओर से डेढ़ लाख पदों पर भर्ती की प्रक्रिया संपन्न की गई है। ऐसे में एक बार फिर चुनाव से ठीक पहले रेलवे ने 1 लाख 30 हजार रिक्त पदों को भरने का एलान किया है। आज शनिवार को रेलवे की ओर से इसे लेकर विज्ञापन जारी किया गया है। इस भर्ती प्रक्रिया में शामिल होने के लिए अभ्यार्थियों को 26 फरवरी को आॅनलाइन आवेदन करना होगा। इसे खास बात यह है कि सरकार द्वारा हाल ही में लागू किए गए सवर्ण आरक्षण का फायदा भी आर्थिक रुप से पिछड़े वर्ग के लोगों को मिलेगा।

शुरूआती तौर पर इस भर्ती प्रक्रिया में कुल 30 हजार रिक्त पदों को भरने का काम होगा। इसके पहले चरण में लोकप्रिय श्रेणीच् के गैर—तकनीकी कर्मचारियों की नियुक्ति होगी। जिसमें जूनियर क्लर्क कम टाइपिस्ट। एकाउंट क्लर्क कम टाइपिस्ट, ट्रेन क्लर्क कमर्शियल कम टिकट क्लर्क,गुड्स गार्ड, सीनियर कमर्शियल कम टिकट क्लर्क, सीनियर क्लर्क कम टाइपिस्ट, कमर्शियल अप्रेंटिस, जूनियर अकाउंट कम टाइपिस्ट और स्टेशन मास्टर के पद शामिल हैं। इन पदों के लिए इच्छूक अभ्यार्थियों को इसी 28 फरवरी के लिए आवेदन करना होगा।

दूसरे चरण में स्टोनोग्राफर, चीफ असिस्टेंट, जूनियर ट्रांसलेटर हिंदी, जैसे मंत्रालयों तथा पृथक श्रेणीइ के कर्मचारियों की भर्ती होगी। इसके लिए अभ्यार्थियों को आगामी 8 मार्च आॅनलाइन पंजीकरण करने के लिए कहा जा सकता है। इसके आलावा लेवल वन यानी ग्रुप डी के लिए रेलवे 1 लाख लोगों को भर्ती करेगा। इसके लिए आॅनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया 12 मार्च से प्रारंभ होगी। इस बार रेलवे इन पदो के लिए एससी/एसटी, ओबीसी, के साथ ही पहली बार आर्थिक रुप से पिछड़े वर्ग के लोगों के लिए भी सीटों को रिजर्व करेगा। इसके आलावा पूर्व सैनिकों और दिव्यांगों के लिए भी सीटों को आरक्षित किया गया है। कोर्स कंप्लीटेड एक्ट अप्रेंटिस को भी इसमें आरक्षण दिया गया है।

 

आॅनलाइन पंजीकरण के बाद लेवल 1 को छोड़ बाकी सभी पदों के लिए रिक्तियों का ब्योरा आरआरबी की वेबसाइट पर उपलब्ध होगा। तबकि लेवल—1 से ंबंधित जानकारी आरआरसी की साइट पर मिलेगी। पिछले साल लेवल —1 और सुपरवाइजर श्रेणी में असिस्टेंट लोकों पायलट व तकनीशियनों के आलावा सिविल, इलेक्ट्रीकल , सिग्नल व दूरसंचार जैसी आॅपरेटिंग और तकनीकी विभागों के संरक्षा से जुड़ी 1.40 लाख तथा सुरक्षा से जुडऋी आरपीएफ के 10 हजार पदों समेंत करीब डेढ़ लाख पदों पर भर्ती को लेकर पिज्ञापन निकालें थे। बता दें कि इन परिक्षाओं में चयनित अभ्यार्थियों के मार्च— अप्रैल तक नियुक्ति पत्र मिलने की उम्मीद हैं