05, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

मैट्रिक और इंटर में आब्जेक्टिव प्रश्न को लेकर बिहार बोर्ड ने लिया बड़ा निर्णय !

bseb2_022316020507

पटना, 29 अक्टूबर। इस बार 2017 में होने वाले मैट्रिक और इंटर की परीक्षा के प्रश्नपत्र का पैटर्न बदल दिया जाएगा। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित परीक्षा में आब्जेक्टिव प्रश्नों की संख्या ज्यादा रहेगी।
नए साल से शिक्षा व्यवस्था में परिवर्तन किए जाने की पूरी तैयारी में बोर्ड लग चुका है। यह परीक्षा पैटर्न को नवंबर में होने वाली बैठक में इसे अंतिम रूप दिया जाएगा। सभी स्कूलों में एक ही दिन परीक्षा ली जाऐगी और प्रश्नपत्र बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा तैयार किए जाएंगे। इस बार हुए परीक्षा में गड़बड़ी को लेकर अब कोड उत्तर पुस्तिका देने पर विचार चल रहा है। चर्चा है कि 2017 की परीक्षा से बार कोड वाली उत्तर पुस्तिका भी परीक्षार्थियों को देने की तैयारी में बोर्ड लगा है।

सीवान के जिला शिक्षा पदाधिकारी विश्वनाथ प्रसाद विश्वकर्मा ने बताया कि नए पैटर्न में पासिंग मार्क्स क्या होगा अभी इसपर कोई चर्चा नहीं हुई है इस पर मंथन चल रहा है। साथ ही उन्होंने बताया कि नया पैटर्न इस बार हर हाल में लागू हो जाएगा। जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि 100 अंकों के प्रश्नपत्र में 35 नंबर वैकल्पिक विषय रखने की सहमति बन चुकी है। बस बोर्ड की अंतिम मुहर लगनी बाकी है। ऐसे में अब छात्र छात्राओं को परीक्षा में शत प्रतिशत सफलता प्राप्त करने के लिए अपने विषय पर मजबूत पकड़ बनानी होगी ताकि वे सफल हो सकें।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

4 विचार साझा हुआ “मैट्रिक और इंटर में आब्जेक्टिव प्रश्न को लेकर बिहार बोर्ड ने लिया बड़ा निर्णय !” पर

  1. suman shanu October 30, 2016

    Hume ye news of Bihar bahut aacha site lagta hai yaha per saare Bihar ka news mil jata hai

  2. ashif ali October 30, 2016

    mera vichar yeh hai ki is bar ki pariksha me pure india me sabhi question equal honge

  3. Md asif alam October 31, 2016

    Mera vichar ye hi ke 30 objective ho na chaheye &40 ka subjective .jetna vi karmchari goss lela hi u se jel main band kardo

  4. Angad kumar Anand November 20, 2016

    aap log Jo bhee karange WO mera liye good hi hoga

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME