19 अगस्त, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

बिहार सरकार का राज्यकर्मियों और पेंशनभोगियों को बड़ा उपहार, सरकार ने बढाया डीए और महंगाई भत्ता

cabiner

पटना, 1 दिसम्बर। नीतीश कैबिनेट ने राज्यकर्मियों और पेंशनभोगियो के महंगाई भत्ता में सात फीसदी का इजाफा किया है। अब कर्मियों को डीए के रुप मे 125 फीसदी से बढ़कर 132 फीसदी महंगाई भत्ता मिलेगा। इसका राज्य में चार लाख कार्यरत कर्मियों और तीन लाख पेंशनभोगियों को फायदा होगा। कैबिनेट ने बिहार भवन के किराए में बढ़ोतरी के प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी है। सरकार के इस फैसले से तकरीबन साढ़े तीन लाख कर्मियों और इतने ही पेंशन भोगियों को फायदा मिलेगा। बढ़ी हुई डीए की राशि दिसंबर के वेतन में जुड़ कर मिलेगा। नया डीए जुलाई 2016 से मान्य होगा। सरकारी सेवकों को महंगाई भत्ते की नई किश्त के भुगतान के लिए सरकार को 565 करोड़ रुपए खर्च करने पड़ेंगे। कैबिनेट की बैठक में कुल 24 एजेंडो पर मुहर लगी।

आपको बता दें कि कैबिनेट के अन्य फैसले में दिल्ली स्थित बिहार निवास और बिहार भवन मे ठहरना महंगा हो गया है। सरकार ने सभी बिहार भवन और बिहार निवास के रेंट मे कई गुणा की वृद्धि की है। अधिकृत व्यक्ति अगर सरकारी कार्य के लिए ठहरते है तो उन्हें 16 रुपए प्रतिदिन प्रति कमरा की बजाय 250 रुपया भुगतान करना होगा जबकि गैर सरकारी काम को लेकर ठहरने वालों को 500 रुपया भुगतान करना होगा। सरकारी कामकाज के लिए बिहार निवास में कमरा लेने के लिए सरकारी सेवकों को अब 16 रुपए की बजाए 250 रुपए प्रतिदिन किराया देना पड़ेगा। वहीं निजी कार्य से बिहार निवास में ठहरने वाले सरकारी सेवकों को 50 रुपए की बजाए 500 रुपए किराया प्रतिदिन देना पड़ेगा। कमरे में एसी की सुविधा के लिए अलग शुल्क लिया जाएगा। वहीं गैर सरकारी लोगों (अनधिकृत) को प्रति दिन 250 की बजाए 1000 किराया देना पड़ेगा। निर्धारित समय के बाद भी कमरा नहीं छोड़ने वालों से दोगुना किराया वसूला जाएगा। इस बैठक में बख्तियारपुर-ताजपुर पुल के लिए 15 एकड़ जमीन देने के प्रस्ताव को भी मंजूरी मिली। कैबिनेट की बैठक मे बिहार वित्त नियमावली 1950 को संसोधित किया गया है।

ये भी पढे़ं:-   जे कहि नहि सकलहुं... दीप को देव का संदेश

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME