10, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

बिहार सरकार को हाईकोर्ट से लगा बड़ा झटका, अल्कोहल के उपयोग पर नहीं रहेगा रोक !

patnahighcourt-nitish

पटना, 27 अक्टूबर : बिहार सरकार को एक बार फिर से हाई कोर्ट से झटका लगा है। शराबबंदी के बाद होमियोपैथी और आयुर्वेदिक दवाओं में अल्कोहल के उपयोग पर लगी रोक को हाईकोर्ट की न्यायमूर्ति आईए अंसारी की खंडपीठ ने ख़ारिज कर दिया है। कोर्ट ने होमियोपैथी और आयुर्वेदिक दवाओं में अल्कोहल के उपयोग को वैध बताते हुए कहा है की दवाइयों में जिस तरह अल्कोहल का उपयोग पूर्व में किया जा रहा था वह पहले के तरह ही होगा। दवाइयों में अल्कोहल का इस्तेमाल पर रोक लगाना अभी संभव नही है। अगर ऐसा होता हाई तो होमियोपैथी और आयुर्वेदिक चिकित्सा में भारी असर पद सकता है।

यह भी पढ़ें : 27 लाख में बिहारी युवक के हाथों बिक गई हरियाणा की ‘सपना’, विदाई होने से पहले दिया बच्चे को जन्म !

जानकारी हो की राज्य में शराबबंदी कानून लागू होने के बाद से पूरे प्रदेश में अब तक की गई छापेमारी में कई तरह के खुलासे हुए हैं। मसलन, बनाने के तरीके, बेचने के नए-नए नुस्खे बगैरह। लेकिन, गोपालगंज जिले में 18 लोगों की मौत के बाद छापेमारी में जो खुलासा हुआ, वो हैरान करनेवाला था।
दरअसल, जहरीली शराब से हुई लोगों की मौत के बाद उत्पाद विभाग के प्रधान सचिव केके पाठक के निर्देश पर पूरे बिहार में छापेमारी की गई थी। उसी क्रम में उत्पाद विभाग की टीम ने होम्योपैथिक की दुकानों पर छापेमारी की।

यह भी पढ़ें : सेनारी नरसंहार मामले में कोर्ट का आया बड़ा फैसला, 34 लोगों के कत्लेआम…

गोपालगंज में उत्पाद निरीक्षक संजय कुमार के नेतृत्व में होम्योपैथिक दुकानों पर छापेमारी में की गई थी। शराब से मौत होने के बाद खजूर के पेड़ों के निकट भारी मात्रा में थूजा-30 नामक खतरनाक केमिकल मिला था। बिहार में इस दवा की बिक्री होम्योपैथिक दुकानों पर की जाती हैं।
यह भी पढ़ें : मधुबनी जिले में ट्रांसपोर्टर से घुस लेते एसडीओ और डीएसपी रंगेहाथ गिरफ्तार

नियमत: थूजा-30 निर्धारित मात्रा में ही दुकानों पर रखी जा सकती है। गौरतलब है कि ज़हरीली शराब में थूजा-30 को मिलाया गया था। जिससे एक-एक कर अब तक 18 लोगों की मौत हो गई थी।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

8 विचार साझा हुआ “बिहार सरकार को हाईकोर्ट से लगा बड़ा झटका, अल्कोहल के उपयोग पर नहीं रहेगा रोक !” पर

  1. Mukesh kumar October 27, 2016

    Sarab bnd hone se kya log sarab nhi pee rhe h yaha to poolice ki gunda grdi aur v badh gae h jisk v ghr me ghus jati h bina ladis poolice k ye poolice ka gundaraj ho gya h isme gareeb to aur mar rha h poolice ko agr koi paisa wala aadmi bol de ki usk ghr me red kro to wo poolice chand paiso k lie gareeb k ghr pe ja k gandi gandi gali dete h yaha to poolice ko pagar sarkar deti h bt gulami wo paise walo ki hi krte h

    • MONU MUKESH October 29, 2016

      Sahi bole hai aap Bs name ke liye bardi pehan rakha hai police wale wo to gulami paise walo ki hi karta hai

  2. Mukesh kumar October 27, 2016

    Cm sir ko ye sb nhi dikh rha h unko to srf aur srf pm ka khumar chadha hua h chahe gareeb mare ya jeeye isse unko kya unko to raj gaddi pe baithna h

  3. Shambhu Singh October 27, 2016

    Bihar me alcohol band nahi hony chahiye Sara Homeopathic clinic band ho jayega bahut sare doctor berojgar ho jayenge

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME