10, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

छठ व्रत के लिए पटना के 20 गंगा घाट खतरनाक घोषित, कैसे होगा छठ पूजा ?

chhath-ghat

न्यूज़ ऑफ़ बिहार डेस्क। लोक आस्था के महापर्व छठ की तैयारियों जोरो पर है। वही इस महापर्व को लेकर पटना जिला प्रशासन द्वारा भी विशेष तैयारी की जा रही है।राजधानी पटना के 20 गंगा घाटों को जिला प्रशासन ने खतरनाक बताया है। जीके के सदर अनुमंडल के 11 घाट वही पटना सिटी के 9 घाट हैं। इन घाटों पर छठ पर्व करने पर रोक लगा दिया गया है। छठ व्रती 68 घाटों पर हीं अस्ताचल और उदयगामी भगवान् भाष्कर को अर्घ दे सकेंगे।
इस बाबत पटना के डीएम संजय अग्रवाल का कहना है कि जिला प्रशासन के सतत प्रयासों की वजह इस वर्ष खतरनाक घाटों की संख्या बेहद कम हुई है। विदित हो कि पिछले साल सदर अनुमंडल के 14 घाटों व सिटी अनुमंडल के 18 घाटों को खतरनाक बताया गया था। यानी कुल 32 घाटों को व्रतियों के लिए खतरनाक घोषित किया गया था।
गर पटना सिटी अंचल की बात करे तो केशव राय घाट, टेढ़ी घाट, अदरक घाट, पत्थर घाट एवं नंदगोला घाट, नरकट घाट, खाजेकलां घाट में गंगा घाट पर पानी की अधिक गहराई और दलदल युक्त कीचड़ को देखते हुए खतरनाक घोषित किया गया है। वही दूसरी तरफ रामजी चक, नहर घाट, कृष्णा घाट को बेहफ खतरनाक घाटों के तौर पर चिन्हित किया गया है। वहीं टीएन बनर्जी घाट, मिश्री घाट, अदालतगंज घाट, बांकीपुर क्लब घाट, सिपाही घाट, अंटा घाट से गंगा की धार काफी दूर चले जाने से व्रतियों को लंबी दूरी तय कर गंगा तीर तक पहुचना होगा।
विदिति हो की पूर्व में हुए छठ व्रत के दौरान घटित हादसो से सबक लेते हुए जिला प्रशासन किसी तरह की गुंजाइश नहीं छोड़ी जा रही है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME