11, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

छात्र की मौत पर पटना में बवाल… कई ट्रेने आग के हवाले !

Patna Train-me-aag

पटना , 23 जुलाई। देर शाम कोचिंग से लौट रहे कैमूर के एक छात्र की इस्लामपुर पैसेंजर से कटकर मौत हो गई। जिसके बाद उसके साथियों ने पीछे से आ रही साउथ बिहार एक्सप्रेस को आग लगा दी और कई ट्रेनों पर जमकर पथराव किया। अपने साथी की मौत के बाद भड़के छात्रांे ने कई ट्रनों पर पथराव करना शुरू कर दिया। इसके साथ ही साउथ बिहार की सभी एसी बोगियों के शिशे को चूर-चूर कर उसमें आग लगा दिया। वहीं ट्रेन में माजूद यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई। सभी इधर-उधर भागने लगे। दर्जनों ट्रेनों को करीब 5 घंटे तक रोक दिया गया। पथराव की वजह से इधर-उधर भाग रहे कई यात्रियों के साथ ही पथराव रोक रहे पुलिसकर्मी जख्मी हो गए।

कोचिंग कर घर लौट रहा था..

मामला पटना सिटी कंकडबाग की है। जहां कोचिंग से लौट रहे 22 वर्षीय शशि की मौत राजेंद्रनगर टर्मिनल-एनएमसीएच के बीच ट्रैक पार करते समय इस्लामपुर पैसेंजर से हो गई। बताया जा रहा है कि शशि भभुआ का रहने वाला था और अपने घर परिवार से दूर वह राजधानी में बाजार समिति के पास एक लाॅज में रहकर एसएससी के अलावा अन्य प्रतियोगिताओं की परिक्षाओं की तैयारी कर अपनी जिंदगी सवांरने आया था। लेकिन उसे क्या पता था कि जिस शहर में वह अपनी जिंदगी सवांरने आया था वहीं शहर उसकी जिंदगी का अन्त कर देगा।

भड़के छात्रों व स्थानीय लोगों ने आग के हवाले किया ट्रेन..

घटना के बाद शाम आठ बजे शशि के सैकड़ों साथियों व स्थानीय लोगों ने जमकर पथराव के साथ ही बिहार एसी बोगी (बी थ्री) को आग के हवाले कर दिया। 5 घंटों तक ट्रेनों का परिचालन बाधित रहा, राजधानी सहित दर्जनों ट्रेन जहां-तहां रोक दी गई । मामला बढ़ता देख पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया। जिसके बाद छात्रों का गुस्सा और बढ़ गया और सबने मिलकर पुलिसवालों को भी पीट दिया। बताते चलें कि साउथ बिहार एक्सप्रेस जब राजेंद्रनगर टर्मिनल से खुलकर एनएमसीएच से गुजर रही थी तब ट्रैक जाम कर रहे लोगों ने ट्रेन को रोककर यात्रियों को उतार सभी एसी बोगियों को आग के हवाले कर दिया। स्थिति बिगड़ती देख ट्रेन को वापस राजेंद्रनगर यार्ड लाया गया। उसके बाद जैसे-तैसे यात्रियों को बोगी से निकाला गया।

पुलिस ने चलाई लाठियां, इलाज ना होने के कारण शशि ने तोड़ा दम..

मौके पर पहुंची पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठियां चलानी शुरू कर दी। जिसके बाद भड़के छात्रों ने पथराव, आगजनी के साथ ही पुलिस को भी पीट दिया। माहौल बेकाबू होता देख थानों की पुलिस सहित अलग-अलग पुलिस लाइन से भारी संख्या में बल मंगाया गया और ट्रेन को वापस किया गया। फिर एंबुलेंस बुलाकर आधा दर्जन से अधिक यात्रियों को अस्पताल पहुंचाया गया। जानकारी के अनुसार मौके पर पहुंची पुलिस गंभीर शशि को अस्पताल ले जाने के बजाए मूकदर्शक बनी हुई थी। वहीं बहुत ही ज्यादा खून बह जाने और मौके पर इलाज ना होने के कारण शशि ने दम तोड़ दिया।

घंटों फसी ट्रेनें, उपद्रवियों ने की लूटपाट, कर्मचारियों ने एसी बोगी को किया अलग..
आगजनी के कारण कई एसी बोगियां क्षजिग्रस्त हो गई जिसके बाद कर्मचारियों ने बोगी को ट्रेन से अलग कर दिया। ट्रेन में मौजूद यात्रियों ने बताया कि छात्रों ने बोगी के अंदर घुसकर सबसे मार-पीट की और सामान भी लूटने लगे। लकिन वहां मौजूद पुलिस खड़े होकर बस तमाशा देख रही थी। दूसरी तरफ हंगामा और प्रर्दशन को देख तूफान एक्सप्रेस,
डिब्रूगढ़ राजधानी एक्सप्रेस, संपर्क क्रांति एक्सप्रेस, साहबगंज-दानापुर इंटरसिटी, श्रावण्री मेला मेल स्पेशल एक्सप्रेस, उपासना एक्सप्रेस, हटिया एक्सप्रेस, फरक्का एक्सप्रेस के अलावा कई एक्सप्रेस व पैसेंजर ट्रेनों को जहां-तहां खड़ा कर दिया गया। साथ ही अप व डाउन लाइन पर ट्रेनों के परिचालन नहीं होने से पटना जंक्शन, दानापुर, पटना साहिब, राजेंद्रनगर टर्मिनल आदि स्टेशनों पर यात्री बेहाल रहे।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME