08, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

मुख्यमंत्री के गांव में दहेज़ दानवों का तांडव, बेटा नहीं जनने पर मां बेटी को जिंदा जलाया !

Demo photo

कृष्ण कुमार की रिपोर्ट
गया, 26 अगस्त : एक बार फिर दहेेज दानवों ने दहेज़ की खातिर तीन बेटियों को जिन्दा जला दिया। ताजा मामला गया जिले का है जहां एक हैवान ने पत्नी सहित दो बेटियों को जिंदा फूंक डाला। खिजरसराय प्रखंड के महकार थाना क्षेत्र में बुधवार की रात ससुराल वालों ने रिंकू देवी और उसकी दो बेटियों रेशमी (6) और डबली (2) के साथ चारपाई से बांधकर सिर्फ इसलिए जला डाला क्योंकि दहेज के लोभी ससुराल वाले रिंकू देवी से बेटा चाहते थे। बेटा नहीं नहीं जनने पर मां को उसकी दो बेटियों के साथ चारपाई से बांधकर जिन्दा फूंक डाला।

जानकारी के अनुसार खिजरसराय थाना के तरका गांव निवासी चंदेश्वर यादव ने अपनी बेटी रिंकू की शादी सात साल पहले लड़किया गांव के सूर्यदेव यादव के पुत्र पिंटू यादव से की थी। शादी के बाद दो बेटियों का जन्म हुआ। बच्चियों के जन्म के दौरान ऑपरेशन के खर्च के एवज में ससुराल वाले मोटरसाइकिल की मांग करने लगे। साथ ही बेटे की जगह बेटियों को जन्म देने को लेकर रिंकू को ताना देने लगा। रिंकू के पिता ने बताया कि ससुराल वालों ने उन्हें रिंकू और उसकी बेटियों की अचानक तबीयत खराब होने की सूचना दी और कहा कि पटना में इलाज चल रहा है। जब वह बेटी को देखने के लिए पटना आए तो बताया गया कि तीनों की मौत हो गई और और शवों को जला दिया गया। इस घटना की जानकारी रिंकु के पिता ने महकार थानाध्यक्ष सुशील कुमार को बताया। जिसके बाद थानाध्यक्ष मामले की छानबीन कर रही है। साथ ही केस भी दर्ज कर ली गई हैं। प्राथमिकी में दर्ज सभी आरोपी फरार हैं। विदित हो कि यह घटना पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी के पैतृक गांव महकार थाना क्षेत्र की है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME