09, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

दहशत में बिहार… हिंसा की आग में छपरा के बाद जल रहा सीवान, कई जिलों में हाई अलर्ट के साथ इंटरनेट सेवा पर लगी रोक !

vrgjnxfpbc-1460989373

पटना, 07 अगस्त : बिहार के छपरा में देवी-देवताओं की अश्लील फोटो वायरल किए जाने के बाद हो रहे उपद्रव से उपजे हिंसा की लपटें सीवान जिले में भी पंहुच गयी है। जिसको लेकर डीएम महेन्द्र कुमार व एसपी सौरभ कुमार साह ने जिले में हाई अलर्ट जारी कर दिया है। डीएम ने जिले के सभी बीडीओ, सीओ व थानेदारों को क्षेत्र में निगरानी करने का निर्देश दिया है। वहीं छपरा के बाद अब सीवान में इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी गयी है। अफवाह फैलाने वाले व किसी तरह की गड़बड़ी करने वालों को तत्काल गिरफ्तार करने का निर्देश दिया गया है। डीएम ने कहा है कि कहीं से भी सूचना मिलती है कि कोई अफवाह फैला रहा है या किसी तरह का उपद्रव करने के लिए किसी को उकसा रहा है तो उसे गिरफ्तार किया जाएगा। जिले में इंटरनेट सेवा पर रोक लगाने के आदेश जारी होने के साथ बीएसएनएल ने सहित सभी इंटरनेट प्रदाता कम्पनी ने इंटरनेट सेवा पूरी तरह ठप कर दी है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

8 विचार साझा हुआ “दहशत में बिहार… हिंसा की आग में छपरा के बाद जल रहा सीवान, कई जिलों में हाई अलर्ट के साथ इंटरनेट सेवा पर लगी रोक !” पर

  1. shashi kumar singh August 10, 2016

    bahut aachha huaa

  2. deepak singh August 10, 2016

    Effect of alliance with Lalu g

  3. Prem prakash August 10, 2016

    Kisi bhi religion ke bhawna ke sath mat khelo ..bhai

  4. Abhinay Sharma August 11, 2016

    Nafrat Ki Laathi Todo,Daulat Ka Khanjar Fenko,Tum Aman Pasand Ho.

    Mere Deshpremiyo Aapas Mein Prem Karo Deshpremiyo……

  5. Azad siddique August 11, 2016

    Bade afsos ki bat hai
    Humlog bahot asani se ak gandi rajniti ke shikar ho jate hai
    Ye usi ka natija hai

  6. Azad siddique August 11, 2016

    Kyo ki chhapra ka mastermind ak peshevar apradhi hai
    Ye sab plan ke sath hua hai
    Nitisn jee ko badnam karne ke liye

  7. Nandlal prasad September 15, 2016

    Bura sochnewale ye kiyon nahi jante ki aag ki Bari’s hogi to ham bhi jalenge

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME