24 अगस्त, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

दरभंगा : जाले वाली दुर्गा माता के विसर्जन ने बनाया ऐसा रिकॉर्ड कि मुंबई वाले हैरान हैं !

14516517_1067932549994721_4

newsofbihar.com डेस्क, 13 अक्टूबर। अब तक आपने मुंबई के गणपति बप्पा के मेगा विसर्जन समारोह के बारे में सुना होगा लेकिन आज हम आपको मां दुर्गा के एक ऐसे विसर्जन समारोह के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में ना तो आपने सुना होगा और शायद देखा भी नहीं होगा। मां दुर्गा की प्रतिमा जब विसर्जन के लिए ले जाई जाती है तो नगर भ्रमण या गांव भ्रमण में कितनी देर लगता होगा…आप कहेंगे दो घंटे…चार घंटे…6 घंटे लेकिन अगर आपको पता चले की करीब 24 घंटे बाद जाकर विसर्जन की प्रक्रिया संपन्न हुई तो क्या आप यकीन करेंगे। शायद नहीं…लेकिन ये सच है। दरभंगा के जाले प्रखंड में मां दुर्गा की प्रतिमा को जब पूजा स्थल से क्षेत्र भ्रमण के लिए ले जाया गया तो अद्भुत नजारा देखने को आया। शाम के 6 बजे मां दुर्गा की प्रतिमा के साथ हजारों लोगों की भीड़ विसर्जन के लिए विदा हुई। इस दौरान आकर्षक झांकियों ने लोगों का दिल जीत लिया। मिथिला की परंपरा के मुताबिक प्राचीन नृत्य शैली झिझिया आकर्षण का केंद्र बिंदु बना रहा। हम आपको बता दे कि झिझिया नृत्य शैली जिसका इतिहास तो गौरवशाली रहा है लेकिन अब ये नृत्य शैली विलुप्त होने के कगार पर है। विसर्जन यात्रा के दौरान भक्ति संगीत की धुन पर हजारों नवयुवक झूमते रहे। बैंड बाजा और डीजे के साथ सारा वातावरण मानो भक्तिमय हो उठा।

हां तो शाम के 6 बजे जो विसर्जन यात्रा निकाली गई उसका अंत अगले दिन शाम 5.30 बजे हुआ यानि तकरीबन 24 घंटे की इस विसर्जन यात्रा ने रिकॉर्ड स्थापित कर लिया है। अब आप ये भी जान लीजिए की विसर्जन यात्रा का रूट कितना लंबा था…विसर्जन यात्रा का रूट मात्र दो से ढाई किलोमीटर था और इस विसर्जन यात्रा में इतने लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी कि चींटी के समान ससरना पड़ रहा था। अब आपको अफसोस तो हो रहा होगा कि क्यों नहीं इस अद्भुत विसर्जन यात्रा का हिस्सा बन पाया लेकिन हम आपके लिए खास तौर पर इस महाविसर्जन यात्रा की तस्वीरों को प्रस्तुत कर रहे हैं ताकि आप अनुभव कर सकें। जाले के स्थानीय निवासी अनिल कुमार झा ने अपने फेसबुक वॉल पर मां दुर्गा की महान विसर्जन यात्रा की तस्वीरों को साझा किया है। इस विसर्जन यात्रा की चर्चा ना केवल दरभंगा में हो रही है बल्कि पूरे राज्य में लोग इसके बारे में बात कर रहे हैं। आयोजकों को चाहिए कि इस विसर्जन यात्रा के बारे में लिम्का बुक या अन्य किसी संस्था से संपर्क कर इस रिकॉर्ड को दर्ज करवाने की प्रक्रिया को शुरू करें। हम आपको बता दें कि पिछले साल जाले की दुर्गा पूजा विसर्जन के दौरान करीब 19 घंटे का वक्त लगा था और पिछले साल का रिकॉर्ड इस बार टूट गया है। अब अभी से अगले साल की महाविसर्जन यात्रा का इंतजा कर रहे हैं सभी श्रद्धालु।

दरभंगा के जाले दुर्गा पूजा समिति के विसर्जन यात्रा का खास आकर्षण

ये भी पढे़ं:-   नीतीश कुमार के सपने पर बीजेपी का तंज...कहा वैशाखी के सहारे चला रहे हैं सरकार !

1. 23 घंटे से भी ज्यादा वक्त लगा विसर्जन यात्रा में
2. दो किमी के रूट को तय करने में लगा 23 घंटा
3. हजारों की तादाद में शामिल हुए श्रद्धालु
4. झिझिया नृत्य बना रहा आकर्षण का केंद्र
5. भक्ति संगीत पर घंटों झूमते रहे श्रद्धालु

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME