एंबुलेंस कर्मी की हड़ताल पर जाने से मरीजों को हो रही परेशानी!

seohar news
Advertisement

मोहम्मद हसनैन की रिपोर्ट-

शिवहर जिला में विगत 10 नवंबर से ही अनिश्चितकालीन चक्का जाम कर रहे एंबुलेंस कर्मी से गरीब मरीजों का बुरा हाल है। एंबुलेंस कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष मोहम्मद शमीम राज ने बताया है कि विगत 6 महीनों से हम एंबुलेंस कर्मचारियों का मानदेय नहीं दिया जा रहा है जिस कारण हम लोगों को भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है इसीलिए हम लोग मजबूरन 10 नवंबर 2018 से अनिश्चितकालीन चक्का जाम कर रखे हैं। एंबुलेंस कर्मचारी संघ ने बताया है कि एनजीओ सम्मान फाउंडेशन एवं पशुपतिनाथ पारस के द्वारा हम लोगों को मानदेय मिलता है जो विगत 6 महीने से नहीं दिया जा रहा है ,जबकि शिवहर जिले में 13 एंबुलेंस सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों सहित सरोजा सीताराम सदर अस्पताल एवं पुराना सदर अस्पताल में है जो मौजूदा समय में बिल्कुल ठप है। शिवहर जिले में 102 नंबर का एंबुलेंस 25 एंबुलेंस ड्राइवर तथा 25 ईएमटी कुल 50 एंबुलेंस कर्मी है।

 

seohar news

एंबुलेंस कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष मोहम्मद शमीम राज, उपाध्यक्ष रत्नेश कुमार, सचिव जय किशोर मिश्रा , कोषाध्यक्ष सत्येंद्र कुमार सहित कर्मियों ने बताया है कि इस बार हम लोगों को जो मानदेय मिलता है वह एक साथ दे, तथा प्रत्येक महीना के 1 से 5 तारीख के बीच मानदेय देना सुनिश्चित करें ऐसा नहीं करने पर अनिश्चितकालीन चक्का जाम जारी रहेगा। एंबुलेंस कर्मी के द्वारा अनिश्चितकालीन चक्का जाम करने पर जिले के गरीब मरीजों का बुरा हाल है ,उनको चिकित्सकों द्वारा रेफर करने पर एंबुलेंस हड़ताल पर रहने के कारण उसे मोटी रकम देकर मरीजों को इलाज के लिए बाहर जाना पड़ रहा है