04, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

फेसबुक पर गाली-गलौज करने से पहले करा लें इंश्योरेंस, मिलेगी मुआवजे की राशी !

socialmedia-insurance-faceb

मनोरंजन : सोशल मीडिया पर किसी घटना, सब्जेक्ट या किसी व्यक्ति के बारे में खुलकर अपनी बात लिखने वालों को अब डरने के जरूरत नहीं है। क्योंकि उनके खिलाफ यदि कोई मानहानि का केस करता है तो इंश्योरेंस कंपनी उस व्यक्ति को कवर देगी। कंपनी केस साबित करने वाले व्यक्ति को क्लेम की पूरी रकम देगी।

अभी भारत में सोशल मीडिया यूजर्स का इंश्योरेंस नहीं होता है। देश की ऐसी पहली इंश्योरेंस पॉलिसी लाने पर निजी कंपनी बजाज आलियांज काम कर रही है। इसके बारे में कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर तपन सिंहल ने का कहना है ‘यदि किसी व्यक्ति को सोशल मीडिया पर किसी पोस्ट या कमेंट की वजह से मुकदमा झेलना पड़े और मुआवजा देने की नौबत आए तो साइबर इंश्योरेंस इस लागत को कवर करेगा। हमारी कंपनी पर्सनल साइबर कवर डिजाइन कर रही है। यह कॉरपोरेट्स के लिए वर्तमान में मौजूद साइबर इंश्योरेंस कवर जैसा ही होगा। बीमा कराने वाले व्यक्ति को दिए जानेवाले साइबर कवर में उसकी साख, डाटा सेंध और किसी निजी, फाइनेंशियल या संवेदनशील जानकारी चोरी हो जाने के मामले में भी कवर मिलेगा।

तीन साल से ऐसी पॉलिसी यूज में है
अभी पर्सनल साइबर इश्योरेंस पॉलिसी के तहत फिशिंग, आइडेंडिटी थेफ्ट, साइबर स्टाकिंग, शोषण और बैंक अकाउंट्स की हैकिंग को कवर किया जाता है। साइबर इश्योरेंस आईटी फर्मों, बैंकों, ई-कॉमर्स और फार्मस्यूूटिकल कंपनियों को बेचे जाते हैं। इसके तहत कॉरपोरेट्स को प्राइवेसी और डाटा ब्रीच, नेटवर्क सिक्युरिटी क्लेमस और मीडिया लायबिलिटी का कवर मिलता है।’ भारत में कंपनियों द्वारा साइबर कवर लेने का चलन पिछले कुछ सालों में बढ़ा है। देश में पिछले तीन साल से ऐसी पॉलिसी यूज में हैं। इंडस्ट्री के अनुमान के मुताबिक, ऐसी करीब 500 पॉलिसीज ली गई हैं।

भारत में 1000 करोड़ रु. का साइबर मार्केट
एक अनुमान के मुताबिक, भारत में साइबर बीमा का मार्केट करीब 1,000 करोड़ रुपए का है। यह मार्केट लायबिलिटी के 7 से 10 फीसदी हिस्सों को कवर करता है। देश में इंटरनेट यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इसमें सबसे ज्यादा नए इंटरनेट यूजर्स का झुकाव सोशल मीडिया की तरफ होता है। अमेरिका के बाद भारत में इंटरनेट यूजर्स के लिहाज से दूसरा सबसे बड़ा देश है। कुछ साालों में भारत पहले स्थान पर होगा।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME