24 अप्रैल, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

नदियों में आया उफान मचा हाहाकार !

nob

मो. शमशाद की रिपोर्ट

दरभंगा , 25 जुलाई। नेपाल की तराई में लगातार बारिश होने और गंडक बराज का एक फाटक टूटने से कई दिनों से जिलों की नदियों के जलस्तर में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनी हुई है। वहीं नदियों में कई जगहों पर लगे जल मापक यंत्र खतरे के निशान का संकेत दे रहें है। बताया जा रहा है कि जयनगर में अधवारा नदी, सोनवर्षा, साहर घाट, एकमी घाट और कमला नदी एकदम लाल निशान के करीब से बह रही है। साथ ही बागमती नदी, बेनीवाद, हायाघाट, अवधारा समूह की नदियां कमतौल, शहुली घाट और कमला झंझारपुर लाल निशान से बिल्कुल थोड़ा नीचे से बह रही है। खतरा बढ़ता देख जिला प्रशासन ने बांधों पर निगरानी बढ़ा दी है। लगातार 24 घंटे प्रशासन जलस्तर के उतार-चढ़ाव पर नज़र रखे हुए है।

मिली जानकारी के अनुसार निचले इलाके में नदी के पानी का फैलाव होने से कई एकड़ में लगे धान भी प्रभावित हो रहे है। सिर्फ इतना ही नहीं पशुओं के चारों पर भी प्रभाव पड़ रहा है। इसपर रविवार को शाम 4 बजे केंद्रीय जल आयोग सहायक अभियंता डी एन सिंह ने बताया कि बागमती नदी बेनीवाद में 47.370, बिशनपुर में 45.310, हायाघाट में 43.58, एवं अधवारा नदी सोनबरसा में 81.200, कमतौल में 49.340, साहरघाट में 55.270, सहुलीघाट मे 50.680, एकमीघाट मे 45.390 जब की कमला नदी जय नगर में 67.830, झंझारपुर में 49.387 मीटर पर बह रही है।

ये भी पढे़ं:-   शराब के नशे में कपिल शर्मा अपने साथी कलाकरों के साथ करते हैं मारपीट, राजू श्रीवास्तव ने कहा

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME