03, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

मरता क्या न करता… जान बचाने के लिए नंगे पेड़ पर बैठा रहा तीन दिन तीन रात !

Patna-Badh

पटना, 24 अगस्त। कहते है कि जान बचाने के लिए आदमी कुछ भी कर सकते हैं। ऐसा ही कुछ बाढ़ पीड़ितो के मुंह से सुनने को मिल रहा है। कोई छत पर चढ़ कर तो कोई पेड़ पर लटक कर जान बचा रहा है। हांलाकि इसी बीच एक चैंकाने वाला मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि बाढ़ से बचने के लिए एक आदमी पिछले 72 घंटे से पेड़ पर नंगा बैठा था। उसे उम्मीद थी कि कोई न कोई उसे बचाने अवश्य आएगा।

जानकारी अनुसार बाढ़ अनुमंडल के भुनेश्वर पासवान के मौत और जिंदगी की लड़ाई की कहानी सबसे अलग है। भुनेश्वर 72 घंटे तक न्यूड हालत में पेड़ पर बैठे रहे। वह तभी उतरे जब एनडीआरएफ की नाव उनके पास पहुंची।

एनडीआरएफ के इंस्पेक्टर राकेश कहते हैं कि जब मैं अपनी बोट लेकर वहां से गुजर रहा था तो भुनेश्वर ने पूरी जान लगाकर मदद के लिए आवाज लगाई। जब मैं उसके पास पहुंचा तो उसकी स्थिति काफी दयनीय थी। एनडीआरएफ के जवानों ने बताया कि भुनेश्वर को पहले पहनने के लिए कपड़े दिए गए।

क्या है मामला
-शनिवार की रात करीब 11 बजे बाढ़ की पानी ने किया भुनेश्वर के घर में प्रवेश।
-जान बचाने के लिए घर के सारे लोग भागने लगे इधर उधर।
-भागने के क्रम में पानी के चपेट मेें आया भुनेश्वर।
-पानी की तेज रफ्तार के कारण खुल गए थे उनके कपड़।
-डर के मारे भुनेश्वर चढ़ गया पेड़ पर।
-पेड़ पर गुजारी तीन रातें।
-बाढ़ का पानी पीकर मिटाई भूख।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME