08, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

मधुबनी : बाढ़ ने मचायाा तांडव !

61 गांवों में फैला पानी

madhubani

मधुबनी, 25 जुलाई। मधेपुरर प्रखंड के ग्यारह पंचायत के 61 गांवों में बाढ़ का पानी फैल जाने से स्थिति भयानक बनी हुई है। नेपाल-भारत को जोड़ने वाली मुख्य सड़कों में एक निर्मली-कुनौली सड़क के नहरी-बाजूबन्द के बीच पांची नदी का डायवरसन ध्वस्त हो गया। जिससे निर्मली-कुनौली पथ पर आवागमन बंद हो गया है। इससे नेपाल के सप्तरी जिला एवं सुपौल जिला के डगमारा पंचायत का सीधा सम्पर्क भंग हो गया है। अन्य डायवरसन घोरदह नदी के नरेन्द्रपुर, अमचीरी डायवरसन, नेमुआ एवं बनगामा डायवरसन पर भी बाढ़ के पानी का दबाव बढ़ रहा है। इसके टूटने से अंधरामठ थाना जो महादेवमठ में स्थित है उसका अपने क्षेत्र से सीधा सम्पर्क टूट गया है। थाना क्षेत्र के एक दर्जन से अधिक गांव के लोगों को थाना से सीधा सम्पर्क भंग हो गया है। बाजूबन्द से नरहिया प्रधानमंत्री सड़क के राजारामपट्टी बरूआर के बीच पांची नदी के झरान पर बने डायवरसन पर पांच फीट पानी बह रहा है जिससे आवागमन अवरूद्ध हो गया है। जिससे एक दर्जन गांवों का सीधा सम्पर्क टूट गया है एवं पठन-पाठन भी प्रभावित हुआ है। नरहिया-लौकही एनएच 104 के मनसापुर के समीप वर्षा एवं बिहूल नदी के जलस्तर में उछाल से सड़क पर पानी बह रहा है। जिस पर वाहनों का आवागमन बन्द है। लौकही कन्या मध्य विद्यालय के प्रांगण में वर्षा से जलजमाव के कारण पठन-पाठन प्रभावित हो गया है। सूत्रों के अनुसार त्रियुगा एवं पांची नदी के तट पर धनछीहा में विद्युत जल परियोजना के कैम्प में बाढ़ के पानी धुसने की जानकारी मिली है।

दूसरी ओर कोसी क्षेत्र के बाढ़ पीड़ितों के बीच पेयजल भी एक बड़ी समस्या बनी हुई है। अधिकांश चापाकल जलसमाधि ले चुका है। एक घर से दूसरे घर तक बिना नाव का जाया नहीं जा सकता। ऐसे में मजबूर होकर बाढ़ या बर्षा का पानी ही लोगों को पीना पड़ रहा है। जिससे महामारी उत्पन्न होने की संभावना भी बनी हुई है। वहीं शौचालय की समस्या भी बनी हुई है। लोक लाज त्यागकर बांस का मचान बना शौच करने को लाचार हैं लोग। एक तो इन क्षेत्रों के अधिकांश लोग खुले में शौच किया करते शौचालय बहुत कम परिवारों के पास है। उन शौचालयों में भी पानी घुस जाने से जन जीवन त्रस्त है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

3 विचार साझा हुआ “मधुबनी : बाढ़ ने मचायाा तांडव !” पर

  1. jeeva sahni July 25, 2016

    ishwar se mera prathna hai ki
    in sabhi badh prabhavit bhai bahno ko
    rahat mile

    Thinks god

  2. udaykumar g July 26, 2016

    Bihar me sabhi jila ke sah kushal ke liye main prathana karunga

  3. Mukesh yaav July 26, 2016

    Bihar me kabhi pani nahi hota to kabhi Etna bani hota h ki logo ko Gina muskil ho jata h sarkar ko ab hamesa limit me kisat ko pani mile esh pe kahan Urbana chahiye

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME