29 जून, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

फाॅगिंग बढ़ा रही निगम की शोभा, नगर वासी गंदगी से बेहाल !

Logo

पंकज कुमार सिंह की रिपोर्ट

जहानाबाद, 28 जुलाई। फॉगिंग मशीन आते ही स्थानीय नगर परिषद कार्यालय की जैसे शोभा बढ़ गई। लेकिन दवा का छिड़काव करने में उसका इस्तेमाल ना के बराबर हो रहा है। जैसा कि आप जानते हैं कि शहर में मच्छरों का प्रकोप सालों भर रहता है पर बरसात के दिनों में गंदगी तथा जलजमाव के कारण इसका प्रकोप काफी बढ़ जाता है। संपन्न परिवार के लोग तो मच्छर निरोधक दवा तथा मच्छरदानी से अपना बचाव कर लेते हैं। लेकिन गरीब परिवार के लोगों को जाग कर रात बितानी पड़ती है। शहर में जल निकासी की अब तक कोई भी उचित व्यवस्था नहीं की गई है। जिसकी वजह से नालियों का गंदा पानी सड़क पर सड़ता रहता है, कीड़े-मकौड़े अपना डेरा जमा लेते हैं। जिसका परिणाम ये होता है कि बीमारियां बढ़ती जा रही है। जिले के सरकारी तथा गैर सरकारी क्लिनिकों में प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में बीमार लोग पहुंच रहें है। मिली जानकारी के अनुसार नगर परिषद कार्यालय में 15 फाॅगिंग मशीन उपलब्ध है, पर इसे संचालित करने के कोई भी इंसान सक्षम नहीं है। आलम यह है कि परिषद कार्यालय के सफाई कर्मियों द्वारा इसका संचालन करवाया तो जा रहा है पर ठीक ढंग से यह संचालित नहीं हो पा रहा है।

गंदगी से परेशान हैं नगर वासी..
वहीं जिले के चिकित्सकों के अनुसार इस गंदगी से मलेरिया, फाइलेरिया, डायरिया, टायफाइड तथा डेंगू रोग होने की संभावना बढ़ती जा रही है और लोग इससे ग्रसित हो रहे हैं। दूसरी तरफ स्थानीय लोगों में विश्वनाथ प्रसाद, कुंदन कुमार, जितेंद्र कुमार, हरेराम कुमार का कहना है कि हमलोग नगर परिषद को टैक्स देते हैं लेकिन कोई सुविधा नहीं मिलती है। कीड़े-मकोड़े तथा मच्छरों के प्रकोप की वजह से जीना मुश्किल हो गया है। यदि यही स्थिति रही तो आंदोलन का रास्ता अख्तियार करना पड़ेगा।

ये भी पढे़ं:-   भूख से दम तोड़ता इंसान, क्या वाकई में देश बदल रहा है?

क्या कहते हैं अधिकारी..
वहीं नगर परिषद कार्यपालक पदाधिकारी संजीव कुमार का कहना है कि दो-तीन दिनों के बाद दवा का छिड़काव आरंभ कराया जाएगा। यह सही है कि पहले स्वीपर
से छिड़काव कराया जाता था लेकिन उससे संभव नहीं हो पा रहा है। अब इसके लिए वैकल्पिक व्यवस्था की जा रही है।

nikita gupta

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME