30 अप्रैल, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

गरीबी के कारण चार दिनों से घर में नहीं जला चूल्हा, भूख के कारण मर गयी बेटी !

vlcsnap-2016-09-22-21h35m56

मुजफ्फरपुर, 23 सितम्बर। मड़वन ब्लॉक में गरीबी और बीमारी से एक युवती की मौत हो गई। हालात इतना खराब था कि आसपास के लोगों के चंदा देने और मुखिया के तीन हजार रुपए देने के बाद गुरुवार की सुबह कफन का जुगाड़ हो पाया। इसके बाद उसका अंतिम संस्कार संभव हो पाया। पड़ोसियों का कहना है कि उसके घर में अन्न का एक दाना भी नहीं था। इस कारण पिछले चार दिनों से घर का चूल्हा नहीं जला था।
जिसके कारण युवती का मौत हुआ है।

आपको बताते चले कि महम्मदपुर सूबे पंचायत के बंगरी में बुधवार की रात दिव्यांग हरेन्द्र साह की 18 वर्षीय पुत्री सोनी कुमारी की तबीयत विश्वकर्मा पूजा के दिन ज्यादा खराब हो गई। परिवार वालों ने उसे पीएचसी में भर्जी करवाया जहां डॉक्टरों ने खून की कमी बताते हुए उसे खून चढ़ाने के लिए एसकेएमसीएच रेफर कर दिया। पैसे के अभाव में सोनी के परिजन उसे एसकेएमसीएच नहीं ले जा सके और उसकी मौत हो गई। हरेन्द्र के परिवार में यह तीसरी मौत है जो भूख से हुई है।

जानकारी के अनुसार 10 साल पहले पेशे से मजदूर हरेन्द्र के दोनों पैर हादसे में चले गए थे। पांच बच्चों समेत सात लोगों की परवरिश का जिम्मा उठाने वाले हरेन्द्र के लाचार होते ही परिवार में खाने के लाले पड़ने लगे। इस बीच, हरेन्द्र की पत्नी किशोरी देवी की दोनों आंखें भी चली गई। कमाने वाला कोई नहीं रहने के कारण अंत्योदय योजना के अनाज से ही गुजारा होता था। हालांकि पैसे के अभाव में जुलाई से वह भी नसीब नहीं हो रहा था।
वहीं अंचलाधिकारी के मुताबिक 14 दिन पूर्व ही परिवार को अंत्योदय योजना से 35 किलो अनाज उपलब्ध कराया गया था। दिव्यांग हरेन्द्र का कहना है कि पेंशन के लिए 5 साल से काट रहे प्रखंड कार्यालय का चक्कर। अभी तक न दिव्यांग को न प्रमाण पत्र बना न पेंशन मिली।
पांच कठ्ठा जमीन है जो चैर में होने से खेती करने लायक नहीं है और आय का कोई दूसरा साधन नहीं होने से परिवार भूखों मरने पर विवश है।

ये भी पढे़ं:-   जेल जाने से बाल-बाल बचा सचिन का 'लाडला'

साथ ही एसडीओ रंजीता का कहना है कि पीड़ित परिवार के घर में कुछ अनाज मिला है। युवती की मौत लंबी बीमारी से हुई है। उस समय इलाज होता तो उसकी जान बच सकती थी।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME