06, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

गुप्तेश्वर धाम… जहां भस्मासुर को वरदान देने के बाद छिपे थे महादेव !

4b5d261a-afc5-4932-8508-3135d945abaa

रोहतास से रीमा सिंह की खास रिपोर्ट
रोहतास, 23 जुलाई : बिहार का नक्सलग्रस्त रोहतास जिला जो की कभी नक्सली तो कभी रोहतास के फैक्ट्री के कारण चर्चा में बना रहता है, लेकिन इसके अलावे यहाँ बहुत दर्शनीय स्थल है जो अपने पौराणिक इतिहास को संजोये हुआ है। आज आपको रोहतास के ऐसे मंदिर के बारे में बताते है जहाँ भगवान शिव की मंदिर है जो की आदिकाल में निर्मित हुआ मंदिर है।
जी हां रोहतास के सासाराम से कुछ दुर चेनारी में स्थित भगवान शिव की प्राचीनतम मंदिरों में से एक गुप्तेश्वर धाम की गुफा है, जहां सालों भर भगवान शिव के दर्शन के लिए भक्तों का तांता लगा रहता है। सावन में शिव जी का भक्तों पर असीम अनुकंम्पा होती है। जानकारों की मानें तो जब शिव जी ने भस्मासुर को उसकी तपस्या से प्रसन्न होकर उन्हें वरदान दिया और कहा कि तुम जिसके सिर पर हाथ रखोगें तो वह भस्म हो जाएगा। वरदान प्राप्त होते ही भस्मासुर का ध्यान मां पार्वती के सौंदर्य पर मोहित हो गया, तो उसने भगवान शंकर को भस्म करने का सोचा। जहां से शिव जी भाग कर इसी गुप्त गुफा स्थान यानी इसे गुप्ताधाम में शरण लिए थे। कहा जाता है की शिव जी के इस गुफा का दर्शन करने वाले के यहां से खाली हाथ नहीं लौटते।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME