बिहार में भाजपा को अगर नहीं है सहयोगियों की जरूरत, तो लड़े अकेला चुनाव

sanjay singh jdu
Advertisement

पटनाः बिहार की राजनीति इस समय गरमाई हुई है | बिहार एनडीए की प्रत्येक सहयोगी 2019 की लोकसभा चुनाव में कितना सीट मिले इस पर घमासान मची हुई है | ऐसे में बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार की दिशा किधर मुड़ेगा इस पर सभी पार्टी का निगाहें टिका हुआ है | ताजा मामला जदयू नेता संजय सिंह के एक बयान पर है |
जदयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि अगर बिहर में भाजपा को लगता है कि व लोकसभा चुनाव अकेला लड़ सकता है तो लड़े हमें कोई दिक्कत नहीं है | संजय सिंह का ये बयान उस वक्त आया है जब बिहार में एनडीए के साथी सीट शेयरिंग को लेकर घमासान कर रहे हैं | उन्होंने कहा है कि बिहार में जदयू सबसे ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ेगा चाहे कुछ भी हो जाए। सीटों के मामले में कमी जदयू को मंजूर नहीं। उन्होंने धमकी भरे लहजे में कहा कि सीटों के बंटवारे को लेकर भाजपा नेता अनाप शनाप बयान देना बंद करें। सिंह ने कहा कि बिहार में भाजपा को पता है कि वह बिहार में बिना नीतीश कुमार के साथ चुनाव जीतने में सक्षम नहीं है और अगर बीजेपी को सहयोगियों की जरूरत नहीं है, तो वह बिहार में सभी 40 सीटों पर लड़ने के लिए वो स्वतंत्र है। हलांकि संजय सिंह के इस बयान पर भाजपा के तरफ से कोई बयान नहीं आया है |

लेकिन किस पार्टी को कितना सीट मिलेगा ये तो आने वाला समय ही बता पाएगा | क्योंकि बिहार में जिस तरह से राजनीति पारा चढ़ा है उससे यही पता चलता है कि बिहार में एनडीए में कुछ भी ठीक नहीं है |

ये भी पढ़े  जब किंग जॉर्ज को नहीं हुआ यकीन, भारतीये फुटबॉलर का ट्रॉउज़र ऊपर करके देखा "कंही पैर स्टील के तो नहीं"!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here