29 मार्च, 2017
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

केंद्र सरकार के नोट बंद करने के बड़े फैसले के पीछे ‘मोदी’ नहीं… बल्कि इस ‘इंजिनियर’ का है दिमाग !

modi

न्यूज़ ऑफ़ बिहार डेस्क : कल मंगलवार देर शाम को केंद्र सरकार द्वारा 500 और 1000 के पुराने नोटों को बंद करने की घोषणा ने पुरे देश को अपने तरफ केन्द्रित किया। भारत-पाक के बीच तनाव के माहौल के साथ एक नेशनल न्यूज़ चैनल पर बैन के आदेश और आदेश के वापसी के बाद की खबरों और अमेरिका राष्ट्रपति चुनाव की खबरों के बीच अचानक आई यह खबर ने गांव से लेकर शहर तक हलचल पैदा कर दी।

केंद्र सरकार के इस फैसले की हर जगह चर्चा हो रही है लेकिन बहुत कम लोगों ही इस बात से वाकिफ होंगे की पीएम के इस फैसले के पीछे एक इंजिनियर का हाथ है।

anil-bokil_1

अनिल बोकिल नाम के शख्स जो की शैक्षणिक रूप से मेकैनिकल इंजीनियर हैं और अभी औरंगाबाद में रह रहे है। साथ ही आम लोगों के साथ आम जिन्दगी जीने वाले अनिल बोकिल पुणे की ‘अर्थक्रांति संस्थान’ के सक्रीय सदस्य भी हैं। जो की 2014 में लोकसभा चुनाव से पहले पीएम नरेन्द्र मोदी से मिले थे। जिसमें उन्हें मुलाकात के लिए सिर्फ 9 मिनट का समय मिला था। लेकिन जब करप्शन रोकने और नकली मुद्रा के चलने से बचने के लिए अपना प्रपोजल को नरेन्द्र मोदी के सामने रखा तो प्रपोजल सेशन 9 मिनट से 2 घंटे का हो गया। और पीएम मोदी लगातार 2 घंटे तक अनिल बोकिल के प्रपोजल प्रेजेंटेशन को सुनते रहे। यूँ कहें की वहीं से 500 और 1000 के पुराने नोटों को बंद करने की प्लानिंग शुरू हो गई थी। जो की कल मंगलवार को अनिल बोकिल के प्रपोजल पर प्रधानमंत्री ने नोटों को बदलने का ऐतिहासिक फैसला ले लिया।

ये भी पढे़ं:-   भारत का अगला उप-राष्‍ट्रपति होगा यह बिहारी !

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

ऐक विचार साझा हुआ “केंद्र सरकार के नोट बंद करने के बड़े फैसले के पीछे ‘मोदी’ नहीं… बल्कि इस ‘इंजिनियर’ का है दिमाग !” पर

  1. Rajat kumar raj bhar November 10, 2016

    Sahi kiye modi ji ne ab sahi liye bada phaisla

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME