23 अगस्त, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

VIDEO में देखिए कैसे भड़क उठा छात्रों का गुस्सा !

inter

शाकिर अहमद कि रिपोर्ट

समस्तीपुर,31 मई।

समस्तीपुर में भी छात्रों का फूटा गुस्सा 30 प्रतिशत रिजल्ट दिये जाने से आक्रोशित आइसा कार्यकर्ताओं ने विरोध जुलूस निकाल मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री का पूतला फूंका प्राथमिक, माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक से काँपी जाँच करवाने के कारण ख़राब रिजल्ट ।

*सभी विषयों में 20 प्रतिशत ग्रेस देने की मांग
*छात्र विरोधी शिक्षामंत्री को बर्खास्त किया जाए
*02 जून को मिथिला यूनिवर्सिटी घेराव की घोषणा

इंटर साइंस का अबतक का सबसे घटिया रिजल्ट मात्र 30 प्रतिशत दिए जाने के खिलाफ बी आर बी काँलेज परिसर से अपने-अपने हाथों में झंडे, बैनर, मांगों से संबंधित नारे लिखे तख्तियाँ एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी का पूतला हाथों में लिए विरोध जुलूस निकाला जो संपूर्ण काँलेज परिसर का भ्रमण करने के बाद मुख्य मार्गों आजादनगर, आदर्शनगर चौक होते हुए नारे लगाते भ्रमण के बाद जुलूस बी आर बी काँलेज गेट पहुँचकर सभा में तब्दील हो गया । अध्यक्षता आइसा बी आर बी काँलेज अध्यक्ष मनिष कुमार, संचालन,मनीष कुमार यादव,संबोधित संजीत कुमार, विकास कुमार अभिमन्यु कुमार, साजन कुमार, संकेत कुमार आइसा जिला उपाध्यक्ष गंगा प्रसाद पासवान, इनौस जिला अधँयक्ष सह भाकपा माले नेता सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने संबोधित किया।

वक्ताओं ने कहा की वित्त रहित शिक्षकों के हडताल के कारण प्राथमिक, मध्य एवं माध्यमिक विद्यालय के शिक्षकों द्वारा काँपी जाँच के कारण रिजल्ट का ऐसा हाल रहा।इसकी जिम्मेवारी लेते हुए शिक्षा मंत्री को बर्खास्त करने, सभी विषयों में 20 प्रतिशत ग्रेस देने, समान स्कूल प्रणाली लागू करने, खाली पदों पर शिक्षकों की बहाली करने, प्रैक्टिकल की व्यवस्था कराने,सी बी एस ई एवं आई सी एस ई सिलेबस को बढावा देने पर रोक लगाने समेत छात्रहित से संबंधित अन्य मांगों को पूरा करने की मांग की गई साथ ही 02 जून को ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी दरभंगा का घेराव करने की घोषणा की गई। युवा माले नेता सुरेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा की शिक्षा मंत्री का वयान हास्यास्पद है।उनँहोंने कहा की चोरी रोकने के कारण इतना खराब रिजल्ट हुआ है।मैं पूछना चाहता हूँ की आज से पहले चोरी के कारण बेहतर रिजल्ट आने की जिम्मेवारी के तौर पर मुख्यमंत्री शिक्षा मंत्री को बर्खास्त करें।अंत में समस्तीपुर-मुसरीघरारी मुख्य मार्ग को सांकेतिक रूप से जाम कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं शिक्षामंत्री अशोक चौधरी का विशाल पूतला फूंककर विरोध जताया गया।

ये भी पढे़ं:-   जान जोखिम में डाल खुलेआम देते हैं मौत को आमंत्रण, रेल प्रशासन लापरवाह...

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME