04, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

Big Breaking: नोटबंदी के बाद आयकर विभाग की बड़ी कार्यवाई, इन लोगों और शहरों में भेजे आयकर विभाग ने नोटिस

jklkj

पटना, 20 नवंबर। प्रधानमंत्री ने 8 नवम्बर को 500 और 1000 के बड़े नोटों के समाप्त होने की घोषणा की थी। इसके बाद से ही लोग अपने बड़े नोटों को बैंक में जमा करा रहे हैं। खतों पर आयकर विभाग की पुरी नजर है। वहीँ अचानक बंद होने से बैंक में काफी भीड़ रहती है जिससे देशभर में अस्पतालों में मरीजों और उनके परिवार के सदस्यों को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उन्हें दवाइयां, खाद्य पदार्थ और परिवहन साधनों में लेनदेन करने में समस्या आ रही है। ठेका और दिहाड़ी मजदूरों का काम भी ठप पड़ा है। सीमेंट, रेता और दूसरा सामान नहीं पहुंच पाने की वजह से निर्माण गतिविधियां रुकी पड़ी हैं। लोगों की परेशानी को कम करने के लिये सरकार ने शादी वाले परिवार को ढाई लाख रुपए तक नकद निकासी करने और किसानों और छोटे व्यापारियों को 50,000 रुपए तक नकद उपलब्ध कराने की सुविधा दी है।

आपको बताते चलें कि नोटबंदी के बाद आयकर विभाग ने ऐसे सैकड़ों लोगों से नकदी के स्रोत की जानकारी मांगी है जिन्होंने आठ नवंबर के बाद अपने खाते में बड़ी मात्रा में 500 और 1000 के प्रतिबंधित नोट जमा कराए हैं। साथ ही अधिकारियों के द्वारा इसका जांच भी शुरू कर दिया गया है। विभिन्न शहरों में आयकर कानून की धारा 133 (6) के तहत लोगों को ‘स्रोत’ की जानकारी देने के नोटिस जारी किए गए हैं। इस धारा के तहत विभाग लोगों से जानकारी मांग सकता है। यह नोटिस उन लोगों के लिए है जिन्होंने बैंक में ढाई लाख रुपए से अधिक की नकदी जमा की है। सरकार के द्वारा अचनाक नोट बंद किए जाने के 10 दिन बाद शनिवार को कई बैंक के बाहर लंबी लाइनें आज कुछ छोटी दिखी हैं। पर एटीएम पर नकदी समाप्त होने और लंबी प्रतीक्षा का दौर अभी भी जारी है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME