09, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

जागरूकता के लिए 30 हज़ार लोगों ने बनाई 30 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला !

press-release-30-km-long-hu

सीतामढ़ी, 08 सितम्बर : सीतामढ़ी के बेलसंड अनुमंडल कार्यलय में स्‍वच्‍छ भारत अभियान के तहत सपूर्ण स्‍वच्‍छता के लक्ष्‍य को प्राप्‍त करने और समुदाय की सहभागिता को बढ़ाने के लिए स्‍वच्‍छ सीतामढ़ी पहल के तहत 30 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला का निर्माण किया गया।
इस कार्यक्रम के तहत बेलंसड अनुमंडल के दोनों प्रखंडों बेलसंड और परसौनी के सभी 16 पंचायतों के लोगों ने हिस्‍सा लिया। इस मानव श्रृंखला का विस्‍तार लगभग 30 किलोमीटर तक रहा और इसमें लगभग 30 हजार लोगों ने भाग लिया। अपने आप में अनूठे और पहली बार हुए इस जागरूकता अभियान में पंचायत प्रतिनिधियों, स्‍कूल के बच्‍चों, शिक्षकों, स्‍वास्‍थ्‍यकमीयों, आंगनबाड़ी सेविकाओं, विभिन्‍न संस्‍थाओं के प्रतिनिधियों, सभी सरकारी पदाधिकारियों, महिलाओं और किशोरियों ने हिस्‍सा लिया।
कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए शिवहर की सांसद श्रीमती रमा देवी ने कहा कि स्‍वच्‍छ भारत मिशन के तहत खुले में शौच मुक्‍त समाज, गांव का निमाण स्‍वयं के प्रयास से होना हैं । इस मुहिम को सफल बनाने के लिए जन-जन का सहयोग आवश्‍यक है। हमें सोचना होगा कि हमें अपने आनेवाली पीढ़ी को कैसा समाज देना चाहते हैं। हमें अपनी बहु-बेटियों के मान-सम्‍मान को बचाने और उन्‍हें एक गौरवशाली भविष्‍य के लिए आज और इसी वक्‍त शपथ लेनी होगी कि हम स्‍वच्‍छता के इस मुहिम के साथ हैं।
जिलाधिकारी श्री राजेश रौशन ने इस पहल के बारे में बताते हुए कहा कि शौचालय मान सम्‍मान और बच्‍चों के भविष्‍य से जुड़ा मामला है। आजदी के 70 साल बाद भी हम खुले में शौच से मुक्‍त नहीं हो पाएं है। यह आजादी के बाद हमारी दूसरी सबसे बड़ी लड़ाई है । सामूहिक चेतना का प्रतीक यह मानव श्रृंखला न केवल शौचालय बनवाने और उसके प्रयोग करने के लिए सामुदायिक व्‍यवहार परिवर्तन को न केवल दिशा देगा बल्कि पूरे बिहार के लिए एक मिसाल भी प्रस्‍तुत करेगा। श्री रौशन ने कहा कि हमारे मुख्‍यमंत्री के सात निश्‍चयों में एक शौचालय का निमाण भी शामिल हैं । उन्‍होनें कहा कि हमारा लक्ष्‍य आगामी 2 अक्‍टूबर तक पूरे बेलसंड अनुमंडल को खुले में शौच मुक्‍त घोषित करना हैं। ऐसे में यह मानव श्रृंखला पूरे बेलसंड प्रखंड के लोगों को शौचालय को बनवाने और प्रयोग करने की आदत डालने में सहयोग करेगा।
इस अवसर पर सीतामढ़ी के विधानसभा सदस्‍य श्री राणा रणधीर सिंह चौहान ने कहा कि हमें घर-घर में शौचालय बनवाने के लिए अपनी रणनीति को ऐसा बनाना होगा कि ज्‍यादा से ज्‍यादा भूमिहीन लोगों तक इसका लाभ पहुंच सकें। कार्यक्रम के दौरान विधानसभा सदस्‍य सुनीता चौहान ने भी संबोधित किया ।

युनिसेफ बिहार के वाश विशेषज्ञ श्री प्रवीण मोरे ने इस पहल के बारे में बताते हुए कहा कि स्‍वच्‍छ सीतामढ़ी की इस पहल के तहत आगामी 2 अक्टूबर को बेलसंड अनुमंडल के दो बेलसंड और परसौनी प्रखंड के सभी 16 पंचायतों को खुले में शौच से मुक्‍त घोषित किया जाएगा। इस दौरान बेलसंड अनुमंडल के निवासी लगभग 20 से 24 हजार शौचालयों का निर्माण आगामी 25 दिनों में करेंगे और बेलसंड को खुले में शौच मुक्‍त अनुमंडल बनाएंगे । इसके तहत अबतक सीतामढ़ी के सभी 273 पंचायतों में से 5 पंचायतों मरपा, हरिहरपुर, नानपुर दक्षिण, सिरौरीली और नानपुर उत्‍तर को खुले में शौच मुक्‍त घोषित किया जा चुका हैं । इसी पहल के तहत पूर्व में सीतामढ़ी में एक दिन में 2068 सोक पिट का निर्माण भी किया जा चुका है।
इस दौरान जिलाधिकारी, सांसद और विधायकों ने विभिन्‍न पंचायतों में जनसभाओं को संबोधित किया और लोगों को जागरूक किया। इस मानव श्रृंखला के दौरान विभिन्‍न पंचायतों में नुक्‍कड़ नाटक, गीत-संगीत, बैनर और हैंड बिल्‍स के जरिए भी लोगों को जागरूक किया गया।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

ऐक विचार साझा हुआ “जागरूकता के लिए 30 हज़ार लोगों ने बनाई 30 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला !” पर

  1. अविनाश उजजवल September 8, 2016

    स्‍वच्‍छ भारत अभियान के तहत कमोबेश सभ्‍ाी जिलों में काम हो रहा हैं पर
    सीतामढी के डीएम राजीव रौशन की यह पहल दूसरे जिलों के लिए एक मिसाल हैं । इससे पहले भी सीतामढी ने एक दिन में 2068 सोख्‍तों का निर्माण कर जल संरक्षण और स्‍वच्‍छता के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दिखाई है।

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME