10, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

बाढ़ जैसी आपदा में भी मोटा माल पर गिद्ध दृष्टि…लानत है ऐसे इंजीनियर-ठेकेदारों पर ?

Jhanjharpur-kamla-nadi

सरफराज सिद्दीकी की रिपोर्ट

मधुबनी, 7 सितम्बर। बाढ़ जैसी आपदा में जहां इंसान बेबस और लाचार हो जाता है वहीं दूसरी ओर सरकारी महकमें से जुड़े इंजीनियर और ठेकेदारों का ध्यान कमाई पर टिका होता है। झंझारपुर कमला बलान के जलस्तर के घटने के साथ ही भैरवस्थान के बनौर के पास पश्चिमी तटबन्ध में कटाव की खतरा बढ गई है। जिससे वहां के गांवों में दहशत का माहौल बना हुआ है। कमला बलान के पश्चिमी तटबन्ध के 37 वें किलोमीटर पर करीब साढ़े तीन सौ मीटर में भीषण कटाव जारी है। बाढ़ नियंत्रण विभाग की ओर से बाढ़ से बचाओ और संघर्षात्मक कार्य के तहत बोरा में बालू भर कटाव स्थल पर डाला गया है। लेकिन बनौर के ग्रामीण संतुष्ट नहीं हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि बाढ संघर्षात्मक कार्य विभागीय अभियंताओं और ठेकदार के लिए लूट खसोट का जरिया बन कर रह गया है। बाढ़ नियंत्रण प्रमण्डल दो के कार्यपालक अभियंता मिथिलेश कुमार सिंह कहते हैं कि तटबन्ध के टुटने की खतरा नहीं है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME