08, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

जिला प्रशासन के स्वच्छता अभियान को चिढ़ा रहे हैं नागरिक, गलती किसकी ?

img-20160929-wa00091

मो. हसनैन की रिपोर्ट

शिवहर, 29 सितम्बर। खुले में शौच न करने को लेकर जिला प्रशासन ने एक तरफ दिन रात एक किये हुये है वही दूसरी तरफ समाहरणालय रोड पुराना समहार्ता आवास के पास बेखौफ नागरिक खुले में शौच कर प्रशासन को चुनौती देती नजर आ रही है। शौच के बाद उक्त नागरिक से पुछा जाने पर सच्चाई सामने आई। उसने बताया कि हम क्या करे शौच का समय नही होता है जीरो माईल चौक पर शौचालय नहीं है। हम बस पकड़ने आये है इसलिये मैं दूसरों को देख सड़क किनारे शौच के लिये बैठ गया।

जानकारी के अनुसार अभी भी पंचायत के सैकड़ो घरों में शौचालय नहीं है। उन घरों के महिलाये को अभी भी शौच के लिये खुले में मजबुरन जाना ही पड़ता है। नगर पंचायत ने हालाकी हर घरों में शौचालय बनाने के लिये आवेदन के लिये हरेक वार्ड आयुक्त को लेने के लिये जिमेदारी दी है। कई लाभार्थी आवेदन दे भी रहे है। रसीदपुर मुशहर टोली में या कहे तो वार्ड न. 12, 13. तथा 15 के कुछ अंश में मुश्किल से 30 से 40 घरों में ही शौचालय होगा। बाकी हजारो पुरूष, महिलाये बच्चे तो खुले में ही शौच जाते होंग। बैरिया, परसौनी बैज, मेसौढ़ा जो कि खुले में शौच मुक्त पंचायत हो चुका है। परन्तु वहा आज भी हजारों पुरूष महिलाये बच्चे सड़क किनारे शौच जाने को मजबूर है।

आपको बताते चले कि कई लोगां ने डीएम राजकुमार और डीडीसी ईन्दू सिंह से आग्रह करते हुए कहा है कि सबसे पहले नगर पंचायत को खुले में शौच करने से मुक्त करने की पहल करे। इसके लिये डीएम और डीडीसी कठोर कदम उठाते हुए सभी घरों मंे शौचालय का स्वयं अपने कर्मचारियो से सर्वेक्षण कराकर शौचालय निर्माण कराये तभी खुले में शौच से निजात मिलेगी।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME