05, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

खिलौने वाले नन्हें दुकानदार की बाल मजदूर को कब मिलेगा संरक्षण !

Sivhar-bibhag

मो0 हसनैन की खास रिपोर्ट
शिवहर, 22 अगस्त : श्रम विभाग को धता बताते हुये शिवहर में एक बच्चा अपने परिजनों का पेट पलने के लिए खिलौनो से सजा बॉंस के बल्ला पर सजा हुआ चलता-फिरता दुकान लेकर कई दिनों से घूम रहा है। जिसको लेकर शहर के विभिन्न चौक चौराहों पर खिलौने वाले नन्हें दुकानदार की बाल मजदूरी की चर्चा जोरों पर है। लोगों का कहना है की आखिर बाल मजदुर संरक्षण करने वाली अभी कहाँ है ?

खिलौने वाले नन्हें दुकानदार ने बताया कि अगर हम नही कमायेंगे तो खायेंगे क्या। अभी शिवहर शहर मे उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले से आया यह नन्हा दुकानदार ने अपने दुकानदारी से खुश दिखे हालांकि उस बच्चे के दुकान की कीमत महज तीन से चार सौ के बीच पूंजी होगी। वही जानकरी के अनुसार खिलौने के काम मे भी मंदा है परन्तु पेट भी मजबूरी है। पूर्व जिला पार्षद अजब लाल चौधरी ने बताया कि बच्चो से काम लिया जाना कानूनी अपराध है जबकी महज जब तीन से चार सौ के ही पुंजी है तो कमाई क्या होती होगी ये बच्चे न तो पढाई कर पायेगा और ना ही उस बच्चे का भविष्य उज्जवल होगा। वैसे वह बच्चा बिहार का नही है इसीलिए श्रम विभाग, सवेरा संस्थान, बाल कल्याण समिती शिवहर की नजर अब तक नहीं पहुच पाने से वह बच्चा बाल मजदुरी करने पर विवश है। बच्चा अपनी मज़बूरी में सरेआम शहर सहित जिले के विभिन्न गॉवों मे अपना रोजगार से परिवार का पेट पाल रहा है। सामाजिक संस्थाओ को इस विषय पर गंभीर होकर विचार करना चाहिए।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME