17 जनवरी, 2017
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

मिथिला महोत्सव के अवसर पर मैथिलि कलाकारों ने बाँधा शमा, कीर्ति, शकील, संजय सहित कई दिग्गजों का हुआ जमावड़ा!

mithila

newsofbihar.com डेस्क

दिल्ली, 13 दिसम्बर। दिल्ली में आयोजित मिथिला महोत्सव में गीत, संगीत के साथ ही मैथिली की पांच नृत्य नाटिकाओं का मंचन किया गया। उम्दा प्रस्तुतियों ने दर्शकों का मन मोह लिया। मिथिलांचल के प्रसिद्ध गायक विकास झा के गीतों पर दर्शक घंटों झूमते रहे। मैथिल पत्रकार ग्रुप और प्रेस क्लब ऑफ इंडिया की ओर से मैथिली-भोजपुरी अकादमी (दिल्ली सरकार) के सहयोग से प्रेस क्लब परिसर में शनिवार शाम आयोजित द्वितीय मिथिला महोत्सव में दर्शक शनिवार को देर रात तक मैथिली गीतों पर झूमते रहे। प्रसिद्ध गायक विकास झा का साथ गायक संजय झा और पूजा ने दिया। मैथिली के पांच नृत्य नाटिकाओं का मंचन प्रकाश झा के नेतृत्व में उनके नाट्य ग्रुप ‘मैलोरंग’ ने किया। सुर-ताल से सजी यह सभा शाम 6 बजे से रात 11 बजे तक चलती रही। कार्यक्रम के दौरान दो छात्राओं प्रदीप्ता झा और अर्चिता ठाकुर ने भी अपनी प्रस्तुति से दर्शकों का मन मोह लिया। कार्यक्रम के सूत्रधार वरिष्ठ पत्रकार और लोकनाटक के मंजे कलाकार गंगेश मिश्रा थे। बिहार भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद नित्यानंद राय, दरभंगा के सांसद कीर्ति आजाद, पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री शकील अहमद, पूर्व नागरिक उड्डयन मंत्री शाहनवाज हुसैन, जदयू नेता संजय झा, बुराड़ी के विधायक संजीव झा, आप नेता पूनम आजाद, मैथिली-भोजपुरी अकादमी के उपाध्यक्ष कुमार संजोय सिंह, प्रेस क्लब ऑफ इंडिया के अध्यक्ष गौतम लाहिड़ी, क्लब के पूर्व कोषाध्यक्ष संजय सिंह तथा मैथिल पत्रकार ग्रुप के नदीम काजमी और मदन झा आदि मौके पर मौजूद थेे। 

शकील अहमद ने इस अवसर पर मैथिली को बढावा देते हुए कहा कि भाषा केवल भाषा नहीं होती। अगर कोई भाषा खत्म होती है तो एक संस्कृति खत्म होती है। उन्होंने कहा, चीन के नागरिक अरबी भाषा बोल-पढ़ सकते हैं तो हम मैथिली या अपनी मातृभाषा क्यों नहीं बोल सकते। नित्यानंद राय ने कहा कि वो सबसे पहले मैथिल हैं और मिथिला की तरक्की के लिए हर मोर्चे पर संघर्ष करने के लिए तैयार हैं। सांसद कीर्ति आजाद ने कहा कि आज जरूरत इस बात की है कि तमाम पार्टियों के लोग मिल जुलकर मिथिला के विकास के मुद्दे पर काम करें। मिथिलांचल से बड़े स्तर पर हो रहे पलायन पर बोलते हुए संजय झा ने कहा, बिहार-मिथिलांचल से बड़े स्तर पर युवाओं का पलायन साबित करता है कि वहां के नेता फेल हुए हैं। हमें इस विषय पर खुलकर विचार करना होगा कि यह स्थिति क्यों आई और इससे कैसे निपटा जाए? संजीव झा ने कहा कि मिथिलांचल के विकास के लिए नेताओं पर जनता को दबाव बनाना चाहिए। नेता उनके लिए हैं और वह भी नेताओं का सही मामले पर साथ दें। कीर्ति आजाद और शहनवाज ने भी मिथिलांचल के विकास में युवाओं को आगे आने का आह्वान किया। साथ ही कहा कि वह इस उद्देश्य के लिए हमेशा उपलब्ध हैं। बीजेपी से आप में शामिल हुई पूनम आजाद ने कहा कि दिल्ली में मैथिलों की ताकत को कोई राजनीतिक पार्टी इग्नोर करके नहीं चल सकती। मैथिल पत्रकार ग्रुप के महासचिव संतोष ठाकुर ने ग्रुप की स्थापना और इसके उद्देश्य व कार्यो को लेकर जानकारी दी। क्लब के संजय सिंह ने मैलोरंग, विकास झा, संजय झा, पूजा की प्रस्तुति को बेहतरीन करार देते हुए अपने संबोधन में कहा कि अर्चिता और प्रदीप्ता की प्रस्तुति ने साबित कर दिया है कि ये दोनों ही उदीयमान सितारे हैं। ये अपने क्षेत्र में स्वयं, परिवार और देश का नाम रोशन करेंगे। 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME