03, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

15 घंटे नदी में भटकते रहे SDO, कहा थैंक्स कोसी मइया!

SUPAUL

कोसी नदी में फंसे एसडीओ सहित उनकी टीम ने बाहर आते ही कहा, ‘कोसी मईया ने हमें बचा लिया’ !

सुपौल , 26 जुलाई। बाढ़ प्रभावित इलाके का दौरा करने गई एसडीओ, सीओ की टीम रात भर लापता रही। ना तो उनके नाव का कुछ पता चल पा रहा था और ना ही उनसे संर्पक हो पा रहा था। लेकिन मंगलवार को एसडीओ, सीओ सहित अन्य 35 पदाधिकारियों को एनडीआरएफ की टीम के द्वारा सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। आपको बता दें कि
एसडीओ, सीओ अपनी 35 लोगों की टीम के साथ सोमवार को सुपौल के बाढ़ प्रभावित इलाके का दौरा करने गए थे। लेकिन दौरा करने के बाद वापस लौटने के क्रम में सभी रास्ता भटक गए। किसी तरह उनलोगों ने जिला मुख्यालय के सीनियर अधिकारियों को इस बात की सूचना दी। लकिन उसके बाद जब जिला मुख्यालय अधिकारियों ने उनसे संर्पक करने की कोशिश की तो ना तो उनसे संर्पक हो पाया ना ही उनके नाव का कोई था-पता था। बताते चले कि सदर एसडीओ नदिमूल गफार सिद्दीकी, सीओ शरत कुमार मंडल, बनैनिया मुखिया शेख करीम, लौकहा मुखिया राजकुमार यादव, प्रमुख विजय यादव, पंचायत समिति सदस्य कमलेश सिंह के साथ-साथ अन्य पदाधिकारी उस दौरे में शामिल थे। वहीं मंगलवार की सुबह एनडीआरएफ की टीम की मदद से कोसी नदी में फंसे तमाम पदाधिकारियों को बाहर निकाना गया। साथ ही बाहर आने के बाद एसडीओ ने अपनी कोसी मईया को धन्यवाद देते हुए कहा कि कोसी मईया ने हम सबको बचा लिया।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

ऐक विचार साझा हुआ “15 घंटे नदी में भटकते रहे SDO, कहा थैंक्स कोसी मइया!” पर

  1. murari July 26, 2016

    Koshi bandh paryawaran aur koshi peediton ka dushman hai. Ise kyon na hata diya jaaye. Is baandh k nirman k samay pandit aabadi ko bahar rakhne k liye disign me tabdili ki gayi. Balua aadi brahman gaaon ko bahar rakha gaya. Lalit babu ne apne gaon ko bachane k liye lakhon logon k jeevan ko sankat me daal diya. Kisi koshi bandh peedit ko koi muawaja nahi mila. Yah shayad bharat sarkar ka abtak ka sabse galat nirnay aur sabse badi dadagiri hai.

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME