लालू यादव के बारे में मौसम वैज्ञानिक ने खोला राज जानिए क्या कहा “रामविलास पासवान”

-paswan_nitish_
Advertisement

पटनाः बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को राजनीति में कौन नहीं जानता है अपने अलग पहनावा और बोलने की शैली से जनता के दिलों पर राज करने वाले लालू 90 की दशक में बिहार के धूरी-तरल राजनीतिज्ञ थे | हलांकि उन पर कई आरोप भी लगे जिसमें चारा घोटाला सबसे प्रमुख है | फिलहाल लालू यादव देवघर कोषाघार मामले में सजा पाता हैं लेकिन अपनी नीजी स्वस्थय के बेहतर इलाज के लिए बेल पर बाहर हैं | लालू यादव के बारे में केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान जिन्हें लालू यादव मौसम वैज्ञानिक कहते थे | वही पासवान राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को लेकर बड़ा खुलासा किया है।

रामविलास पासवान ने बताया कि वीपी सिंह नहीं चाहते थे कि लालू बिहार के मुख्यमंत्री बनें। पासवान ने इस बात को पटना के रवींद्र भवन में पूर्व प्रधानमंत्री वीपी सिंह की जयंती समारोह में कहा | इस कार्यक्रम में पासवान के साथ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी मौजूद थे | पासवान ने कहा कि वीपी सिंह नहीं चाहते थे कि बिहार के मुख्यमंत्री लालू यादव बनें | पासवान ने कहा कि उन्होंने मुझे कहा था बिहार जाने के लिए। मेरे मना करने पर वे चाहते थे कि रामसुंदर दास बिहार के मुख्यमंत्री बनें। रामसु्ंदर दास हमारे खिलाफ चुनाव लड़ते थे इसके बावजूद मैंने उनके नाम पर सहमति भरी थी । पासवान ने कहा कि वीपी सिंह राज परिवार में पैदा हुए और क्षत्रिय थे पर जब वह प्रधानमंत्री बने तो नौ महीने के भीतर यह नारा लगने लगा कि राजा नहीं फकीर है | देश की तकदीर है। वे भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़े। देश में उन्होंने भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन किया और सरकार भी बदली। वे चाहते तो 10 वर्षों तक प्रधानमंत्री रह सकते थे। कोई चुनौती नहीं थी। पर उन्होंने समझौता नहीं किया। उनके साथ काम करने में जो प्रेरणा मिलती थी उसका कोई हिसाब नहीं है।

पासवान जी अपने भाषण खत्म करते हुए कहा कि वीपी सिंह का नाम देश में हमेशा रहेगा क्योंकि उन्होंने धारा के विपरीत लडऩे का काम किया। आपको बताते चलें कि जब वीपी सिंह प्रधानमंत्री थे तो उस समय बिहार के मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव थे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here