27 जून, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

मधुबनी बस हादसा, मृतकों को संख्या पंहुची 40 के पार, घटनास्थल पर अभी भी लगा है जमावड़ा !

img-20160920-wa00022

मधुबनी, 20 सितम्बर : मधुबनी जिले के बेनीपट्टी में सोमवार को हुए सड़क हादसे में मरने वालों की संख्या 35 के पार पंहुचने की बात कही जा रही है। मालूम हो कि सोमवार की दोपहर सुंदरपुर गांव के पास मधुबनी से सीतामढ़ी जा रही एक बस तालाब में गिर गयी थी। देर रात तक 23 शव की पहचान हुई है। सभी मृतकों के परिजनों को देर रात ही मुआवजे का चेक सौंप दिया गया। वैसे आज भी शवों की तलाश जारी है। देर रात में भी दो शवों को भी बाहर निकाला गया है।

वहीं, बसैठ में दुकानें भी खुल गयी है और आवागमन शुरू है। लेकिन घटनास्थल पर देखने वाले की भीड़ अब भी मौजूद है। हर जुबान पर घटना की चर्चा है। आने-जाने वाले राहगीर भी घटनास्थल पर रूक कर जानकारी लेने के बाद अफसोस जाहिर करते दिख रहे हैं।

चार-चार लाख मुआवजा
पटना : आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने मधुबनी में बस हादसे के मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये मुआवजा देने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि चूंकि एसडीआरएफ की टीम मधुबनी में थी, इसलिए 40 मिनट में जवान घटनास्थल पर पहुंचे गये। इसके बावजूद स्थानीय लोगों ने बचाव कार्य में जाने से रोका। बाद में दरभंगा से पहुंची एनडीआरएफ की टीम को भी बचाव काम शुरू नहीं करने दिया गया। घटनास्थल पर पहुंच कर गोताखोर बचाव का काम नहीं कर सके। उन्होंने कहा कि यदि बचाव दल को काम करने दिया जाता तो हो सकता था कि एक-दो लोगों को बचाया जा सकता था।

ये भी पढे़ं:-   शिवहर: नगर पंचायत अध्यक्ष के लिए अनारक्षित सीट घोषित

बस हादसे की जांच करायी जायेगी
प्रधान सचिव ने कहा कि घटना के कारणों की जानकारी के लिए इसकी जांच होगी। यह पता किया जायेगा कि इसके लिए कौन जिम्मेवार था। उन्होंने कहा कि हो सकता है कि ड्राइवर की जगह कोई और बस चला रहा हो या बस को तेजी से चलाया जा रहा था। उन्होंने कहा कि दुर्घटना के अन्य कारण भी हो सकते हैं। यह जांच के बाद पता चलेगा।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME