05, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

पोती की उम्र की छात्रा के साथ इस ‘ठरकी’ टीचर ने जो किया उसे सुनकर आप भी थू-थू करने लगेंगे !

madhubani

अभिषेक कुमार झा की रिपोर्ट

मधुबनी, 16 अगस्त। वेद के अुनसार गुरू का पद ब्रह्मा, विष्णु और महेश से भी बड़ा बताया गया है। उसी एक कलयुगी गुरू ने एक बार फिर अपने पद को कलंकित किया है। बताया जा रहा है कि बिस्फी थाना के रघौली में एक शिक्षक ने गुरू पद की मर्यादा को तार तार कर दिया।

जानकारी अनुसाार एक निजी स्कूल महँथ राम सागर दास सरस्वती विद्या मंदिर के शिक्षक भारत भूषण ठाकुर ने छात्रों को क्लास में पढ़ाने के बदले प्रेम पत्र लिखने का काम इजाद किया। पत्र भी ऐसा वैसा नहीं बल्कि ऐसा प्रेम पत्र जिसके शब्दों को पढ़ा नहीं जा सकता है। यह अश्लील प्रेम पत्र लिखने वाले शिक्षक पहले तो छात्रा से किसी बहाने पुस्तक मंगाते थे फिर उन किताबों के अंदर वह पत्र डाल देते थे। इसके शब्दों को लिखने या दिखाने में भी सभ्य समाज शर्मा जाए।

इस मामले में पीड़ित बच्ची ने बताय कि वह क्वीज कंपटीशन कि तैयारी के लिये जब आरोपी शिक्षक से किताब लाने गई तो किताब से एक पुर्जा निकला। एक दो लाइन पढ़ने के बाद अमर्यादित शब्द लिखे होने के कारण मैने वह पत्र अपने अभिभावकों को सौंप दिया।

इस घटना मेें शर्मनाक और अजब मोड़ तब आता है जब कलयुगी शिक्षक और बच्ची के रिश्ते का ज्ञात होता है। स्थानीय लोगों के अनुसार यह बच्ची आरोपी शिक्षक भारत भूषण ठाकुर की रिश्ते में पोती भी लगती है। दोनों का घर भी ठीक आमने सामने है। इतना ही नहीं शिक्षक महोदय कि उम्र भी तकरीबन 55-57 के बिच का है।

हालांकि इस संदर्भ में आरोपी शिक्षक से संपर्क किया गया तो उन्होंने जवाब देने से मना कर दिया। दूसरी ओर पीड़ित बच्ची के दादी ने बताया कि वे लोग उस पत्र को मांगने पहुँचे थे लेकिन जब हमने नहीं दिया तो शिक्षक के बेटे ने हमारे साथ मारपीट की। बच्ची के पिता ने बताया वह पूर्व में भी ऐसी हरकत कर चुके हैं। वैसे लोक लाज कि वजह से इस मामले को लोग नहीं बोला करते थे।

दूसरी ओर इस मामले में बच्ची के पिता ने बिस्फी थाना को आवेदन दिया है। जांच को पहुंची पुलिस भी कोई जवाब नहीं मिलने के कारण खाली हाथ वापस लौट गयी। घटनास्थल पर पर पहुँचे विजय प्रभाकर ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME