28 जून, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

मधुबनी में बस हादसे के बाद गमगीन है इलाका, अभी तक खोजे जा रहे है शव !

img-20160920-wa00001

मधुबनी, 20 सितम्बर : मधुबनी जिले के बेनीपट्टी थाना अंतर्गत सोन्हौली सुन्दरपुर के पास कल दोपहर हुए भयानक बस हादसे में अभी तक रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। मिली जानकारी के अनुसार अभी तक 35 से अधिक शव को बाहर निकाला जा चुका है। प्रशासन पूरी मुस्तैदी के साथ घटना स्थल पर अभी भी जुटी हुई है। बेनीपट्टी की डीएसपी निर्मला कुमारी और एसडीओ राजेश परिमल ने बताया की रात में भी रेस्क्यू का काम चालू था और रात के रेस्क्यू में 2 और शव को निकाला गया है। अभी उक्त पोखरे से पानी को निकालने की प्रक्रिया शुरू की जा रही है ताकि बांकी बचे शव को भी निकाला जा सके।

आपको बता दें की कल दोपहर 11 बजे के करीब बेनीपट्टी के सुन्दरपुर टोला के पास भयानक बस दुर्घटना हुआ था। बस में 50 से अधिक यात्री सवार थे, जिनमें सभी के मरने की आशंका जाहिर पहले ही की जा चुकी है। घटना के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन में विलम्ब होने के कारण घटनास्थल पर तनाव का माहौल रहा। प्रशासनिक पदाधिकारी के साथ भी कई बार झड़प की गई। गुस्साई भीड़ ने प्रशासन और एनडीआरएफ की गाड़ियां में भी तोड़फोड़ की। जिसके बाद पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए हवाई फायरिंग भी की। देर शाम प्रशासन द्वारा जारी रिपोर्ट में 16 लोगों की मरने के पुष्टि की गई थी। जबकि अभी तक 35 से अधिक शव को निकाला जा चुका है। प्रशासन ने बताया की बहुत लोग शव को निकलने के साथ ही लेकर घर चले गये इसी कारण हमें अभी तक सर 16 लोगों की मृत्यु की जानकरी मिली है।

जिसके बाद घटना को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, मुख्यमंत्री नितीश कुमार, उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, राजद सुप्रीमो लालू यादव ने संवेदना प्रकट की है। फिलहाल राज्य सरकार ने मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख मुआवजा देने की बात कही है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

ये भी पढे़ं:-   इधर नीतीश कुमार का भाषण चल रहा था, उधर एक महिला दे रही थी सड़क पर बच्चे को जन्म... जानिए क्या है दर्दनाक मामला

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME