11, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

“कुंवारी मां” का कसूरवार छुट्टा घूम रहा है और दर-दर भटक रही है पीड़ित महिला !

Logo-(1)madhubani

मधुबनी, 30 जुलाई। भारतीय समाज में संतान जन्म देने के बाद ही किसी महिला को पूर्ण माना जाता है। मगर कोई महिला सामाजिक बंधन तोड़ विवाह से पूर्व अगर गलती से भी मां बन जाती है तो यही वरदान उसके लिए अभिशाप बन जाता है। कुछ ऐसा ही मधुबनी की उस कुवांरी मां के साथ हुआ है। प्रेमी बनकर जीवन भर साथ निभाने वाले साथी ने बेवफाई की सारी हदों को पार करते हुए इस महिला को दर-दर भटकने के लिए मजबूर कर दिया है। जानकारी अनुसार बिस्फी प्रखंड के नूरचक गांव की कुवांरी मां इन दिनों इंसाफ पाने के लिए दर-दर भटक रही है। लाख आश्वासन दिए जाने के बाद भी अब तक ना तो उस संतान को बाप का सुख मिल सका है और ना उस महिला को पति।

इस मामले में पीड़ित महिला कहती है कि यह बच्चा उसके मंगेतर का है। वो अकसर उसके घर आया जाया करता था। इसी क्रम में दोनो के बीच संबंध बना। शुरू में उसने मना भी किया कि यह गलत है और शादी के बाद होनी चाहिए। पीड़ित महिला के अनुसार मंगेतर सदैव यही कहता था कि जब हम शादी करने वाले हैं तो डरने की क्या बात है। बच्चा ठहरने के बाद मंगेतर की ओर से दो लाख रूपए मांगे गए। पीड़ित महिला कहती है कि रूपए देने के बाद भी उसके मंगेतर ने उससे विवाह करने के इंकार कर दिया और कहा कि इसी पैसे से अब वह उसकेे विरूद्ध केस लड़ेगा। बताते चले कि इस मामले में एक महिने पूर्व महिला थाना में केस दर्ज करवाया गया था। इसकी बावजूद महिला को अबतक इंसाफ नही मिल पाया है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME