23 अगस्त, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

नैंसी हत्याकांड में पुलिस की थ्योरी पर उठ रहे हैं सवाल : CBI जांच कराने की मांग

asd

विवेक कुमार के संग पंकज प्रसून की रिपोर्ट
30 मई 2017

नैंसी हत्याकांड मामले की गुत्थी को पुलिस जल्द से जल्द सुलझा लेने का दावा कर रही है। पुलिस के मुताबिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर मिल रही जानकारी के मुताबिक नैंसी की हत्या गला दबाकर की गई। पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर बता रही है कि नैंसी को अगवा किए जाने के कुछ देर बाद ही उसकी गला दबाकर हत्या कर दी गई। डीएसपी उमेश्वर चौधरी ने बताया है कि नैंसी के ऊपर एसिड अटैक या फिर रेप का मामला भी बेबुनियाद है। पुलिस के मुताबिक नैंसी को जलाकर मारने की बात भी गलत है

हम आपको बता दें कि इस मामले के दो मुख्य आरोपी पवन झा और लालू झा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बताया जाता है कि 25 मई यानि जिस दिन से नैंसी लापता बताई जा रही थी उस दिन शाम के वक्त में इन्हीं के साथ नैंसी को आखिरी बार देखा गया था। ये भी बताया जा रहा है कि नैंसी झा के परिवार के साथ इन दोनों आरोपियों की पुरानी दुश्मनी भी चल रही थी। पुलिस ने ये भी जानकारी दी कि आरोपियों ने पीड़ित परिवार के साथ दुश्मनी की बात को कबूल कर लिया है।as

खैर ये तो पुलिस की थ्योरी है लेकिन #Justice4Nancy मुहिम चला रहे लोगों को पुलिस की इस दलील पर भरोसा नहीं है। मिथिला स्टूडेंट यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष रोशन कुमार मैथिल एवं दिल्ली अध्यक्ष प्रकाश मैथिल ने newsofbihar.com के साथ बातचीत के दौरान बताया कि हम इस पूरे मामले की CBI जांच चाहते हैं। इस मामले में मिथिला स्टूडेंट यूनियन ने आज शाम 5 बजें देश की राजधानी दिल्ली में जंतर-मंतर पर कैंडल मार्च का आह्वान किया है। हम आपको बता दें नैंसी के मामा नरेश झा ने भी बताया की पुलिस इस मामले को दबाना चाहती है। नरेश झा की मांग है कि नैंसी हत्याकांड मामले की निष्पक्ष जांच हो और दोषियों को फांसी की सजा मिलनी चाहिए। #Justice4Nancy मुहिम को सक्रियता से चला रहे आदित्य झा को भी पुलिस की इस दलील पर भरोसा नहीं है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही नैंसी के डेड बॉडी की तस्वीर को देखकर तो पुलिस की दलील पर और सवाल खड़े हो रहे हैं। पुलिस का कहना है कि डेड बॉडी को ना तो जलाने का प्रयास किया गया और ना ही एसिड अटैक किया गया फिर महज 48 घंटे से 72 घंटे के अंदर डेड बॉडी इतने विकृत या वीभत्स रूप में कैसे बदल गया ?

ये भी पढे़ं:-   राजनीति की गलत नीतियों से गंगा-जमुनी तहजीब को लगाती है ठेस !
MSU CANDLE

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME